Top
Janta Ki Awaz

व्यंग ही व्यंग

कांप उठा काबुल..... सिहर उठी दुनिया

28 Aug 2021 5:34 AM GMT
............अभय सिंह कांप उठा काबुल।ताबड़तोड़ धमाका।।सिहर उठी दुनिया।कौन है इसके आका?धौंस और दहशत।क्रूर हैवानियत खेल।।बही लहू का दरिया।व्यवस्था हुई फे...

वो बोले जहरीली वाणी, मौन साधे मालिक लाचार

19 Aug 2021 4:55 AM GMT
अभय सिंह।।।।आते नही है बाज। देते रहते बयान।।उचित नही चलन।लेना होगा संज्ञान।।झाड़ लेते हैं पल्ला।उनके आलाकमान।।पूछने पर बनते है।मानो है वो नादान।।जहरीली...

रौंद दिया लोकतंत्र.... : अभय सिंह

17 Aug 2021 4:34 AM GMT
कर लिया है दखल।असलहे के बदौलत।।रौंद दिया लोकतंत्र।बरपा करके कहर।।पग पग दहशतगर्द।तख्त है जो जमाया।।मनहूस वो समय।बेबस उन्हें बनाया।।मूकदर्शक बनी...

संसद में दिखा था.....निम्न स्तर व्यवहार

14 Aug 2021 1:16 AM GMT
झगड़ते हैं ये ऐसे।जैसे बालक अबोध।।समय व पैसा किया।दोनों का दुरुपयोग।।गरिमा एवं मर्यादा।हुई है तार तार।।संसद में दिखा था।निम्न स्तर व्यवहार।।नोंकझोंक,...

बढ़ी लापरवाही... महंगी पड़ेगी

14 July 2021 1:27 AM GMT
कम हो रहे केस।बढ़ी लापरवाही।।होना होगा सजग।निश्चित है तबाही।।आपाधापी मे लोग।भूल रहे हैं वो दिन।।सोशल न डिस्टेंसिंग।घूम रहे मास्क बिन।।देना ही होगा...

उपद्रवी है पाकिस्तान....शीघ्र लगाओ लगाम

29 Jun 2021 1:49 AM GMT
आए दिन घटनाओं का।दिख रहा है परिणाम।।उपद्रवी है पाकिस्तान।लगाओ शीघ्र लगाम।।ड्रोन रहा भेज।बढ़ी इतनी साहस।।ड्रैगन के दम पर।दिखा रहा ताकत।।समय की है...

बंगले में चिराग......बच गए अकेले

15 Jun 2021 2:38 AM GMT
बंगले में चिराग।बच गए अकेले।।पशुपति पारस ने।गजब खेल खेलें।।दरक गई कुनबा।कर दिया किनारा।।पदों से कर विमुक्त।अब हो गए बेचारा।।खुलकर मनमुटाव।गतिविधियां न ...

चलिए हसिए - डॉ एम डी सिंह

14 Jun 2021 11:53 AM GMT
चलिए हसिये कि अपनी हंसी पर हंसी आए दद्दू की दंतहीन पोपली हंसी पर हंसी आए बाबू की अद्भुत तोतली हंसी पर हंसी आए मुन्नी संग बहू की चोंचली ...

निरंकुश होता ट्विटर.....

7 Jun 2021 1:13 AM GMT
निरंकुश होता ट्विटर।पेश किया नजराना।। गुस्ताखी पर गुस्ताखी।आए दिन बनाता बहाना।।देश के कानून से।ना कोई है ऊपर।।समझे ना ट्विटर।अपने को सुपर।।हर हाल में...

चीन से हुआ उद्गम कोरोना....

1 Jun 2021 1:56 AM GMT
चीन से हुआ उद्गम।वायरस कोरोना।।रहस्य सामने आ रहें।उथल पुथल जो होना।।वुहान का ही लैब।संदेह शक के घेरा।।बच नही वो सकता।ड्रैगन पड़ सकता फेरा।।खंगाल रहा...

जिंदगी ऊपर वाले के हवाले

19 April 2021 2:16 AM GMT
अभय सिंहबन्द हो गई जीविका।चौपट हुआ व्यवसाय।।भगवान भरोसे हैं लोग।खत्म नौकरी एवं आय।।स्थिर है बीमारी।टस से मस न हिल।।देख वीभत्स दृश्य।दहल जा रहा दिल।।शिथ...

परिस्थिति डामाडोल, विकराल है नज़ारा

16 April 2021 1:20 AM GMT
कड़ाई और अंकुश।पांव रहे हैं फैला।।कर्फ्यू और सख्ती।लगने की अंदेशा।।भयावह हो रही स्थिति।खौफ का है माहौल।।ध्वस्त किया महामारी।परिस्थिति डामाडोल।।विकराल...
Share it