Read latest updates about "व्यंग ही व्यंग" - Page 1

  • हैदराबाद पुलिस के ...जज्बे को है सलाम : अभय सिंह

    याद आता था मंजर ।अब दिल को मिली ठंडक ।।वो जघन्यतम,अछम्य था ।सबके आँखे भी नम था ।।चरम पर था आक्रोश ।सुन कर खबर भर गया जोश ।।भले हुई देर ।चारों दरिंदों को ।।पुलिस ने मुठभेड़ ।में कर दिया ढ़ेर ।।दिशा के साथ ।हुआ अब इंसाफ ।।भागने के ताक ।कर दिया खाक ।।हैदराबाद पुलिस के ।जज्बे को है सलाम ।।सराहनीय कार्य...

  • कब तक हम करेंगे कैंडल मार्च और निंदा ?: अभय सिंह

    कब तक हम करेंगे ?कैंडल मार्च और निंदा ।।बदल डालो संविधान ।शीघ्र हो इसका निदान ।।क्यों अभी तक जिंदा ?हैं राक्षस वो दरिंदा ।।गिड़गिड़ाती, बिलखती है ।सिसकती भी है, रूदन भी ।।दया की भिख भी मांगती ।हैवान,हवसी सुनता भी कहां ।।दरिंदें तो जिस्म के भूखे के है ।वो वहशीपन , बेपरवाह है ।।मासूम बेकसूर ।क्यूँ इतनी...

  • पूछती हैं बेटियाँ ....कसूर क्या है हर बार ?

    सुनिए सरकार ।बेटियाँ लाचार ।।कब तक सिलसिला ?रहेगा बरकरार ।।पूछती हैं बेटियाँ ।कसूर क्या इस बार ?कब तक मिलेगी आखिर ?इंसाफ का इंतजार ।।अब मोमबती नही ।अब उठेगी मशाल ।।सड़क से संसद तक ।न्याय की गुहार ।।दानवों का आखिर ।कब होगा संहार ।।अब निंदा नही ।बच पाए दरिंदा नही ।।.......अभय सिंह

  • रंजन हुए अधीर .....आरोप मढ़े गंभीर : अभय सिंह

    रंजन हुए अधीर ।आरोप मढ़े गंभीर ।।भाषा का स्तर ।गिरा दिया फिर ।।पीएम की गरिमा ।कर रहे हैं धूमिल ।।बेतूका बयान ।उजागर पहचान ।।मोदी-शाह को बताया ।बाहरी घुसपैठियें ।।बीजेपी को बोला ।मुसलमानों की दुशमन ।।उगलेंगें जहर ।शांत कैसे रहेगा चमन ।।ओछी हरकत ।आखिर कब तक ?

  • वे लूटते हैं बेटियाँ तैमूर की तरह... कि लोकतंत्र नग्न है, सरकार नग्न है

    दावों के झूठ नग्न है, बाजार नग्न है।दुकान नग्न ही है, खरीदार नग्न है।।वे लूटते हैं बेटियाँ तैमूर की तरह... कि लोकतंत्र नग्न है, सरकार नग्न है।1।सब देख रहे बेटियों की नग्न लाश को,मैं देख रहा हूँ कि ये संसार नग्न है।2।वे पूछने लगे हैं जाति-धर्म पीर की....खबरें भी बेईमान हैं, अखबार नग्न है।3।विचार...

  • भुल गया हिन्दुत्व ....सवार कुर्सी का भूत : अभय सिंह

    सिद्धांत से सौदा ।हो गया समझौता ।।छोड़ हिन्दुत्व की एजेंडा ।थाम लिया कांग्रेस का झंडा ।।भुल गया हिन्दुत्व ।सवार कुर्सी का भूत ।।धूर-विरोधी दुश्मन ।बन गए हैं अब मीत ।।सत्ता के मोह में अंधा ।राजनीति का खेल गंदा ।।मिला सीएम पद ।हो गए हैं गदगद ।।सत्ता के लिये ।पार कर गये हद ।।सबक सिखायेंगी जनता ।आने दो...

  • पवार का फेर ....हुआ उलटफेर : अभय सिंह

    गठबंधन बेमेल ।पलट गया खेल ।।पवार का फेर ।हुआ उलटफेर ।।मातो श्री दिया ।अब घुटने टेक ।।माता श्री अब ।हो गयी नेक ।।सिद्धांत से न गुरेज ।ना रहा कोई परहेज ।।निड़र वो शेर ।पड़ा रिमोट के फेर ।।उद्धव बने अघाड़ी ।गठबंधन की सवारी ।।समझ गई हैं जनता ।हर दाव-पेंच तुम्हारी ।।

  • नेताओं की मंडी... विधायक करें परेड़.. : अभय सिंह

    दो-दो पवार । तकरार बरकरार ।।उलझनों में फँस ।गई है सरकार ।।विधायक करें परेड़ ।जनता रही हैं देख ।।नेताओं की मंडी ।जनता को मारे डंडी ।।बाजार में नेता ।धोखे में जनता ।।होटल हयात ।लगी जमात ।।बन गयी बात ।आ गये साथ ।।ले चुके शपथ ।हो गए गदगद ।।

  • एक बार फिर भतीजे ने चाचा को किय चित : अभय सिंह

    भतीजा अजित । चाचा को किया चित ।।अजब ये खेल ।सियासत हुई फेल ।।शिवसेना के सपने ।न हुआ पूरे ।।सीएम का अरमान ।रह गये अधूरे ।।बीजेपी-एनसीसी का खेल ।समीकरण कर दिया फेल ।।सबको चौकया ।फडणवीस राज्य आया ।।कहावत हुई चरितार्थ ।मलते रह गये हाथ ।।दो बिल्ली की लड़ाई ।सबको आ गई याद ।।

  • ऐसे नहीं चलेगी ....तीन दलों की सरकार

    संजय जी निरुपम ।का हमला जोरदार ।।ऐसे नहीं चलेगी ।तीन दलों की सरकार ।।खुद फैसला ।करें विधायक ।।गठबंधन न ।चलने लायक ।।बर्षों की गलती ।से पुनः ले सीख ।।नम्बर तीन की ।पार्टी बनना ना ठीक ।।होगी सरकार ।लूली - लंगड़ी ।।यूपी में गठबंधन ।का देखा था हश्र ।।अच्छा होता हम ।बैठते विपक्ष में ।।अभय सिंह.....

  • छात्रों के भेष में .....सक्रिय हैं गैंग ...

    माँग हुई पूरी ।बढ़ी फ़ीस वापस ।।क्यों फिर आंदोलन ?ठीक नहीं हैं नीयत ।।फ़ीस की आड़ ।बखेड़ा बरकरार ।।छात्र के भेष में ।सक्रिय हैं गैंग ।।राजनीति से प्रेरित ।हथकंड़ा हो बंद ।।बम - बंदूके ।धमकी ना पसंद ।।करें पढ़ाई ।फैलाये यश ।।सरकार करे करवाई ।बंद हो आंदोलन ।।जेएनयू में हो ।सिर्फ पढ़ाई ।।अभय सिंह ...

  • चौकीदार है प्योर ....कोर्ट श्योर ...

    सुप्रीम कोर्ट के हवाले ।आरोप मढ़ थे डाले ।।राहुल मचाते थे शोर ।चौकीदार ही हैं चोर ।।देर ही सही दुरुस्त ।सच्चाई गई जीत ।।रफैल ड़ील में ।इंसाफ गयी मिल ।।कोर्ट की फटकार ।हो जाओ खबरदार ।।बिना शर्त माफ़ी ।किया स्वीकार ।।चौकीदार प्योर ।कोर्ट श्योर ।।

Share it
Top