• 'रविश की रिपोर्ट' पर रिपोर्ट

    पत्रकारिता के लिए 7-स्टार स्टूडियोज और हाई डेफनिशन कैमरों के साथ थ्री पीस सूट में लाखों रूपये तनख्वाह पाने वाले पत्रकारों की बेचैनी मैं समझ रहा हूँ। पत्रकारिता के नाम पर जो ये अय्याशी(मोटी तनख्वाह, एयर कंडिसन स्टूडियोज़, बिजिनेस क्लास हवाई यात्रा) में...

    2017-09-20 04:01:35.0
  • पेंड़किया,गुजिया,चंद्रकला,लवंगलता,मिठा सिंघाड़ा 
देश का रूप—स्वरूप,मन—मिजाज इन जैसा ही है

    पेंड़किया,गुजिया,चंद्रकला,लवंगलता,मिठा सिंघाड़ा देश का रूप—स्वरूप,मन—मिजाज इन जैसा ही है

    एक मिठाई है पेंड़ुकिया. पेंड़किया भी कहते हैं इसको. कई जगहों पर गुजिया के नाम से जाना जाता है. सूखा भी होता है, रसदार भी. कई तरह से बनता है. खोवा वाला, सूजी वाला, आंटा के हलवा वाला. आदि—अनादि प्रकार है. चीज एक ही, नाम अलग. मूल एक ही, सेप—साइज अलग, अं...

    2017-09-13 02:02:31.0
  • शिक्षामित्र..... श्रीमुख

    शिक्षामित्र..... श्रीमुख

    IDBI bank में मैनेजर के पद पर कार्यरत रहते हुए जब कुणाल नेTET का फार्म भरा तो सभी सहकर्मियों ने उसका मजाक उड़ाया ।अबे 45000 का जॉब छोड़ कर12000 पर मास्टरी करने जायेगा? तब उसने अपने एक तर्क से सबका मुह बन्द किया था कि मै बचपन से टीचर बनना चाहता था। ...

    2017-09-13 01:58:38.0
  • धाकड़ व्यंग :

    धाकड़ व्यंग : 'प्रसिद्ध', 'उदारवादी', 'निष्पक्ष' 'महिला' 'पत्रकार' की हत्या

    देश के किसी कोने में एक 'प्रसिद्ध', 'उदारवादी', 'निष्पक्ष' 'महिला' 'पत्रकार' की हत्या हो जाती है और देश दुनिया में तहलका मच जाता है। देश के माहौल को असहिष्णु और धार्मिक उन्माद से ग्रस्त चित्रित कर दिया जाता है। मेन स्ट्रीम मीडिया से लेकर सोशल मीडिया ...

    2017-09-08 03:42:07.0
  • नो तलाक..
इन माई बुर्का..

    नो तलाक.. इन माई बुर्का..

    उच्चतम न्यायालय का निर्णय मानवता के पक्ष में है। समाज के हित में ऐसे निर्णय डंके की चोट पर न सही...हथौड़े की चोट पर भी ठीक हैं। हमारे एक...मित्र कह रहे थे..कि ..तहार भउजाई...बड़ा एथी हो गइल बाड़ी..आजुकाल..। मन करत बा क...

    2017-08-22 07:06:43.0
  • हे प्रभु! ये तुम्हारी माया नहीं तो और क्या मात्र 23 और 70 ही रखी गई

    हे प्रभु! ये तुम्हारी माया नहीं तो और क्या मात्र 23 और 70 ही रखी गई

    मैं सरकार को दाद देना चाहता हूँ कि चौदह डिब्बों के पलटने के बाद भी, और स्थानीय लोगों के द्वारा सौ से बहुत ज्यादा लाशों को निकालने के बावजूद (सरकारी लोगों को तो छोड़ ही दीजिए), मरे हुए लोगों की संख्या मात्र 23 और घायलों की संख्या 70 ही रखी गई है। ...

    2017-08-20 05:40:53.0
  • भादो की अन्हरिया रात का महीन सौंदर्य झाँकने की एक कोशिश

    भादो की अन्हरिया रात का महीन सौंदर्य झाँकने की एक कोशिश

    रात के पौने दस बजने वाले हैं।घर की छत पर हूँ।बिजली नहीं है।बिजली नहीं होना ख़राब बात है पर आज ये एक मौका है मेरे लिए। भादो की अन्हरिया रात का महीन सौंदर्य झाँकने की कोशिश कर रहा हूँ।एक जुगनू ठीक मेरे सामने बेल के पेड़ पर टिमटिम कर रहा है।समी के...

    2017-08-19 17:06:02.0
  • "अगले जन्म की कविता"

    "अगले जन्म की कविता"

    मोबाइल का ऑफ़ होना शांति है, इंटरनेट का नहीं होना है एकाग्र होने की अवस्थानिरंजना नदी के तट परकिसी पीपल के नीचे आँख बंद कर ध्यानस्थ होना हैउस गांव में खटिया पर बैठ भुट्टा खानाजहां किसी कंपनी का नहीं आता है नेटवर्क..उरुवेला का रमणीक जंगल है वो ...

    2017-08-19 02:42:32.0
Share it
Share it
Share it
Top
To Top