Top
Janta Ki Awaz

मदिरा खुले या मंदिर, अपनी अपनी वरीयता : अभय सिंह

मदिरा खुले या मंदिर, अपनी अपनी वरीयता : अभय सिंह
X

मदिरा व मंदिर।

जंग गई है छिड़।।

खुलेगा कौन पहले?

आपस में गई है भीड़।।

अपनी अपनी वरीयता।

भेज खत और संदेश।।

सवाल और जवाब।

उभरा जो क्लेश।।

खुलने का कारण।

कटाक्ष व पलटवार।।

होगा क्या आगे?

सबको है इंतजार।।


Next Story
Share it