Top
Janta Ki Awaz

फाइलेरिया से बचाव की दवा सेवन करने से कोई न रहे वंचित

फाइलेरिया से बचाव की दवा सेवन करने से कोई न रहे वंचित
X

बीएमजीएफ की टीम ने फाइलेरिया उन्मूलन को लेकर किए जा रहे प्रयास को सराहा

कौशाम्बी, 24 जून-2022 । बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन (बीएमजीएफ) और ग्लोबल हेल्थ टास्क फ़ोर्स की टीम ने जनपद के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के साथ ही स्वास्थ्य इकाइयों का दो दिवसीय भ्रमण किया। इस दौरान टीम ने फाइलेरिया उन्मूलन को लेकर किये जा रहे प्रयासों को परखा और फाइलेरिया मरीजों से बात कर उनके सामने आ रहीं चुनौतियों को भी समझा । टीम ने फाइलेरिया उन्मूलन अभियान को लेकर स्वास्थ्य विभाग, फ्रंटलाइन वर्कर और सहयोगी संस्थाओं के प्रयासों को सराहा और कहा कि फाइलेरिया से बचाव के लिए दवा का सेवन सभी करें, इसे सुनिश्चित करने में अभी और प्रयास करने की जरूरत है। आईडीए राउंड के दौरान दवा का सेवन न करने वालों की सूची बनाकर उनको इसकी अहमियत समझाकर दवा सेवन कराने के प्रयास किए जाएं ।

बीएमजीएफ के नेगलेक्टेड ट्रापिकल डिजीज (एनटीडी) उन्मूलनकार्यक्रम के कंट्री लीड इण्डिया डॉ. भूपेन्द्र त्रिपाठी ने जनपद में अभी हाल में फाइलेरिया उन्मूलन अभियान के तहत चलाये गए आईडीए राउंड के बारे में पूरी जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि दवा सेवन न करने वालों को दो श्रेणी में विभाजित करने की जरूरत है, पहली श्रेणी में उन लोगों को रखा जाए जो काम-धंधे के सिलसिले में शहर से बाहर हैं और दूसरी श्रेणी मेंउनको रखा जाए जो दिनभर काम-धंधे के कारण घर से बाहर रहते हैं और शाम को लौट आते हैं । इसी के आधार पर जो शाम को घर लौट आते हैं उनको फाइलेरिया से बचाव की दवा खिलाना सुनिश्चित कर कवरेज को बढ़ाया जा सकता है। इसके अलावा टीम ने आईडीए राउंड के लिए दिए गए प्रशिक्षण और तैयार किये गए माइक्रोप्लान की सराहना की । उन्होंने कहा कि इसी सक्रियता से काम चलता रहा तो जनपद जल्द ही फाइलेरिया उन्मूलन के लक्ष्य को हासिल कर लेगा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. के सी राय ने बताया कि पहले दिन टीम ने मंझनपुर के बेलखा और अम्बावापुरवा गाँव पहुंचकर ग्रामीणों से मुलाक़ात की, जहाँ दवा सेवन को लेकर सहयोगी संस्था पी.सी.आई, डब्लू.एच.ओ व पाथ ने सराहनीय कार्य किया था । टीम ने कनेली के बैगमा गाँव भी पहुंची जहाँ पर उन्होंने आशा कार्यकर्ता के साथ गाँव में भ्रमण किया और रजिस्टर के अनुसार ही फील्ड का काम देखकर संतुष्टि जताई। परिवार रजिस्टर में दर्ज जानकारी को सटीक पाए जाने पर आशा के काम की सराहना की । भ्रमण के अंतिम दिन जिलाधिकारी से मिलकर फाइलेरिया उन्मूलन अभियान में उनके कुशल नेतृत्व के लिए शुभकामनाएं दीं और धन्यवाद ज्ञापित किया।इस मौके पर बीएमजीएफ प्रतिनिधि के अलावाअमेरिका के अटलांटा से वैश्विकस्वास्थ्य के लिए टास्क फोर्स के निदेशक डॉ पैट्रिक लैमी और विश्व स्वास्थ्य संगठन, पाथ, प्रोजेक्ट कंसर्न इंटरनेशनल (पीसीआई) के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Next Story
Share it