Top
Janta Ki Awaz

पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल पर गैंगस्टर एक्ट तहत कार्रवाई, जब्त की जाएंगी 107 करोड़ की संपत्तियां

पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल पर गैंगस्टर एक्ट तहत कार्रवाई, जब्त की जाएंगी 107 करोड़ की संपत्तियां
X

सहारनपुर । बहुजन समाज पार्टी से विधान परिषद रहे हाजी इकबाल पर योगी आदित्यनाथ सरकार का शिकंजा कसता जा रहा है। खनन कारोबारी तथा पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है। शुक्रवार को जमीन पर कब्जे के मामले में हाजी इकबाल के पुत्र अली शान की गिरफतारी के बाद आज हाजी इकबाल की 107 करोड़ रुपए की कीमत वाली 125 संपत्तियों को गैंगस्टर एक्ट के तहत जब्त किया जाएगा। भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा अभियान छेड़नेवाली योगी आदित्यनाथ सरकार अब हाजी इकबाल के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई कर रही है।


सहारनपुर के साथ ही अन्य जिलों में अवैध खनन तथा जमीनों की खरीद में दखल रहने वाले पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल पर फिर बड़ी कार्रवाई की जा रही है। नौकर नसीम के नाम दर्ज उसकी 21 करोड़ की सम्पत्तियों को जब्त करने के बाद सहारनपुर जिला प्रशासन अब आज उसकी 107 करोड़ रुपए की 125 संपत्तियों को जब्त करेगा। इससे पहले कल हाजी इकबाल के बेटे अली शान को गिरफ्तार किया गया था।

सहारनपुर में शनिवार को मिर्जापुर थाना क्षेत्र में हाजी इकबाल और उनके सहयोगियों के नाम दर्ज 107 करोड़ की कुल 125 सम्पत्तियों को जब्त किया जाएगा। इस तरह हाजी इकबाल के कुनबे पर अब तक कुर्की की कार्रवाई में कुल 174 सम्पत्तियां जब्त होंगी, जिनकी कीमत 128 करोड़ रुपए है। थानाध्यक्ष मिर्जापुर के साथ ही आज एसपी ग्रामीण, एडीएम, एसडीएम, सीओ तथा तहसीलदार की देखरेख में हाजी इकबाल की संपत्तियों को जब्ज किया जाएगा। कार्रवाई दोपहर 12 बजे के बाद प्रारंभ होगी।


वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर ने बताया कि हाजी इकबाल से संबंधित मामलों की जांच के लिए शासन स्तर से एसआइटी गठित की गई। एसआइटी की जांच में उन तमाम मामलों को भी शामिल किया गया है, जो हाजी इकबाल या उनके परिवार के सदस्यों पर दर्ज हैं। फर्जीवाड़े से जमीन खरीदने व अन्य मामलों में वांछित हाजी इकबाल के पुत्र अलीशान को गिरफ्तार किया है, जबकि पूर्व में इनके नौकर नसीम की संपत्ति को कुर्क करने के साथ ही नसीम को गिरफ्तार किया जा चुका है।


सहारनपुर निवासी हाजी इकबाल प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी से विधान परिषद सदस्य थे। हाजी इकबाल का सहारनपुर में एक कालेज भी है। इसके साथ हाजी इकबाल प्रदेश में लखीमपुर खीरी, गोरखपुर और सीतापुर की चीनी मिलों में निदेशक है। हाजी इकबाल के तार खनन माफिया से भी जुड़े हुए है और वह खुद भी खनन माफिया है। हाजी इकबाल के खिलाफ पर लकड़ी तस्करी, अवैध खनन, भूमि कब्जाने, लोगों को डराने धमकाने जैसे आरोप में कई मुकदमे भी दर्ज हैं।

हाजी इकबाल के बेटा अली शान गिरफ्तार : बसपा से पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के बेटे अली शान को सरकारी जमीन खरीदने के मामले में शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया। उसको बेहट कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया। अली शान अभिलेखों में फर्जीवाड़ा कर सरकारी जमीन खरीदने के मामले में बेहट के साथ मिर्जापुर थाना में वांछित था। बेहट इंस्पेक्टर बृजेश कुमार पांडेय ने बताया कि अलीशान को लाजपतनगर, दिल्ली में उसके आवास के बाहर से गिरफ्तार किया गया। उसके पास से एक फार्च्यूनर गाड़ी भी बरामद हुई, जिसके वह प्रपत्र नहीं दिखा सका। फार्च्यूनर को सीज कर दिया है। हाजी इकबाल के परिवार ने अब्दुल वहीद एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के नाम से सरकारी जमीन को राजस्व अभिलेखों में हेराफेरी कर खरीद लिया था। इस मामले में रजिस्ट्रार कानूनगो की ओर से बेहट कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था।

Next Story
Share it