Top
Janta Ki Awaz

ब्राह्मण संगठनों की ऑनलाइन बैठक संपन्न

ब्राह्मण संगठनों की ऑनलाइन बैठक संपन्न
X

सैकड़ो ब्राह्मण संगठनों ने भाग लिया

ब्राह्मण श्वेता शुक्ल राष्ट्रीय अध्यक्ष ब्रह्मर्षि समाज एक कदम एकता की ओर व राष्ट्रीय महामंत्री ब्रह्मसागर महासंघ ने बताया कि ब्राह्मण संगठनों की एक बहुत ही महत्वपूर्ण बैठक आज दोपहर 12.05 से अपराह्न 3.00 बजे तक ब्रह्म सागर महासंगठन के तत्वाधान में आदरणीय कैप्टेन एस. के द्विवेदी जी राष्ट्रीय अध्यक्ष ब्रह्मसागर महासंघ की अध्यक्षता में हुयी। डॉ ओ पी पाण्डेय जी ISRO वैज्ञानिक सलाहकार(लेखक भारत वैभव ग्रन्थ)नें समस्या का जड़ और उपचार पर विशेष जानकारी दी।मीटिंग का कुशल संचालन श्री राम महेश मिश्र जी ने अपने अनूठे अंदाज में ऐतिहासिक और भौगोलिक सन्दर्भ को वर्तमान के परिप्रेक्ष्य में जोड़ते हुये किया।जिसमें विभिन्न ब्राह्मण संगठनों से जुड़े विद्वान एवं निपुण लोगों नें भाग लिया।प्रमुख नाम श्री सी पी तिवारी जी, श्री कृपा निधान तिवारी जी (अयोध्या )अध्यक्ष अखिल भारतीय चाणक्य परिषद, श्री लल्लन तिवारी जी (गोरखपुर ), श्री अरविंद तिवारी जी ब्राह्मण स्वयम सेवक संघ,श्री असीम पांडेय विशू जी अध्यक्ष ब्राह्मण चेतना मंच,प्रोफेसर संजय कुमार त्रिपाठी जी प्रदेश महामंत्री ब्रह्मर्षि समाज एक कदम एकता की ओर,श्री तेज नारायण तेजेश जी संस्थापक भारीतय ब्राह्मण महासभा, श्री राजेश जी बागी (बलिया), पँ अनिल कुमार पाण्डेय, श्री राजेश जी (वाराणसी ), श्री मित्रेश चतुर्वेदी जी (अध्यक्ष विप्र राष्ट्रीय एकता मंच ), श्री राजेन्द्र वाजपेयी जी (अखिल भारतीय कान्यकुबाज संगठन ), सुश्री प्रियंका पांडेय, डॉ अशोक त्रिपाठी (हरियाणा ), श्री विवेक, श्री मनीष शुक्ला ब्रह्मदेव जागरण मंच ,श्री निखिल जी, श्री सुरेंद्र पाण्डेय जी (लखनऊ ) अध्यक्ष, परशुराम सेवा ट्रस्ट,श्री परशुराम सेवा संस्थान, ब्रह्म समाज,ब्राह्मण परिषद,अखिल भारतीय धर्म संघ,श्रीमती सुनीता शर्मा जी राष्ट्रीय अध्यक्ष ब्रह्मसागर महासंघ,





श्री विवेक तिवारी (लखनऊ ), श्री प्रभात आज़ाद (अमेठी ), श्री विदेश्वरी तिवारी जी,श्री सुरेन्द्र पाल शर्मा (हमीर पुर ),श्री राजकुमार द्विवेदी जी ,योगेश पांडेय जी ,आदि सैकड़ो लोगो के मंथन के बाद जो विचार सामने आये (1)बीमारी बड़ी है, इलाज भी उच्चस्तरीय होना चाहिए (2)सनातन धर्म की रक्षा (3) एकता की छटपटाहट (4)ब्राह्मण अस्मिता को समाप्त करने की साजिश..!अन्त में और श्री सी पी तिवारी जी नें समापन किया!

Next Story
Share it