Top
Janta Ki Awaz

गरीब परिवारों के लिए संजीवनी बनी आयुष्मान योजना : एसीएमओ

गरीब परिवारों के लिए संजीवनी बनी आयुष्मान योजना : एसीएमओ
X

• 24,758 लोगों का आयुष्मान योजना के अंतर्गत हुआ इलाज

• संबन्धित अस्पतालों को किया गया 24 करोड़ रुपए का भुगतान

• योजना के तहत जानलेवा बीमारियों का भी हुआ सफल इलाज

• अन्त्योदय कार्ड धारक जल्द अपना आयुष्मान कार्ड बनवाएँ

प्रयागराज,14.अक्टूबर 2021: आयुष्मान भारत योजना से जुड़े जनपद में कुल 164 अस्पताल हैं। इनमें 22 सरकारी व 142 निजी अस्पताल हैं। इन अस्पतालों में 23 सितंबर 2018 से 29 सितंबर 2021 तक 24 करोड़ रुपए तक का निःशुल्क इलाज लाभार्थियों का हुआ है। स्वास्थ विभाग इस राशि का भुगतान संबन्धित अस्पतालों को कर चुका है। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के लाभार्थियों में उन लाभार्थियों की संख्या सर्वाधिक है जो जानलेवा बीमारियों का सामना कर रहे थे। यह योजना गरीब परिवार के लिए संजीवनी साबित हुई है। इस योजना के तहत जिले में अब तक 24758 मरीजों का इलाज हो चुका है। यह कहना है एसीएमओ व आयुष्मान भारत नोडल अधिकारी डॉ॰ राकेश चन्द्र का।

13 लाख पचास हज़ार पात्र लाभार्थी

एसीएमओ व आयुष्मान भारत नोडल अधिकारी डॉ॰ राकेश चन्द्र पाण्डेय ने बताया कि विभाग निरंतर लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड बनाने के प्रयास में लगा हुआ है। इसलिए शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार कैंप व अन्य माध्यम से प्रयास किए जा रहे हैं। जनपद में कुल तेरह लाख पचास हज़ार तीन सौ पचास (13,50350) लोग आयुष्मान योजना के पात्र लाभार्थी हैं। इनमें से तीन लाख उनचास हज़ार सात सौ अट्ठावन (3,49758) लोगों को आयुष्मान कार्ड प्राप्त हो चुका है। यह लाभार्थी देश भर में आयुष्मान भारत योजना के संबद्ध सरकारी या निजी अस्पताल में पांच लाख रूपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते हैं।

80 हज़ार 49 अन्त्योदय कार्ड धारक

नोडल अधिकारी डॉ॰ राकेश चन्द्र ने बताया कि शासन के निर्देश पर सभी अन्त्योदय कार्ड धारक परिवार को मिलेगा आयुष्मान योजना का लाभ दिया जाएगा। जनपद में करीब 80 हज़ार 49 अन्त्योदय कार्ड धारक हैं। इसके लिए ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के खाद्य एवं रसद विभाग में तैनात कोटेदार को अंत्योदय पंजीकृत कार्ड धारकों को आयुष्मान योजना से जोड़ने का कार्य दिया गया है।

पात्र लाभार्थी यहाँ बनवाएँ आयुष्मान कार्ड

जिनके पास प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री की ओर से योजना संबंधी पत्र आया है या वह अन्त्योदय कार्ड धारक हैं तो अपना आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं। यह कार्ड सभी कॉमन सर्विस सेंटर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर व गाँव की आशा, राशन देने वाले कोटेदार या आरोग्य मित्र से भी लाभार्थी आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए कह सकते हैं। आयुष्मान कार्ड धारक देश भर में योजना से आबद्ध किसी भी सरकारी या निजी अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख रूपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते हैं। आयुष्मान कार्ड पूरी तरह निःशुल्क है इसलिए किसी को किसी भी प्रकार आ अन्य भुगतान न करें। इस संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए 14555 पर संपर्क कर सकते हैं।

Next Story
Share it