Top
Janta Ki Awaz

चंदौली के बरहनी विकासखंड में स्वास्थ्य महकमा की बड़ी लापरवाही उजागर,डीएम के निरीक्षण में आधा दर्जन से अधिक चिकित्सक व स्टाप मिले अनुपस्थित

चंदौली के बरहनी विकासखंड में स्वास्थ्य महकमा की बड़ी लापरवाही उजागर,डीएम के निरीक्षण में आधा दर्जन से अधिक चिकित्सक व स्टाप मिले अनुपस्थित
X


खबर जनपद चंदौली के बरहनी विकासखंड से है। जहां डीएम संजीव सिंह के निरीक्षण में स्वास्थ्य महकमें आज बड़ी लापरवाही सामने आई है। बता दें कि डीएम द्वारा आज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं विद्यालय का औचक निरीक्षण किया गया। इस दौरान प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बरहनी के निरीक्षण में प्रभारी चिकित्साधिकारी अनुपस्थित पाएं गए। डीएम ने अनुपस्थित चिकित्सको का एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिये। वहीं लापरवाही पर एम ओ आई सी के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

डीएम ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्था को देखते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी से जबाब तलब भी किया जायेगा।डीएम ने सामान्य वार्ड, प्रसव कक्ष, लेवर रूम, स्टोर रूम, दवा कक्ष सहित अन्य वार्डो का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान दवाओं को सुरक्षित नहीं रखने पर कड़ी फटकार लगाते हुए तत्काल साफ-सफाई करते हुए दवाओं व फाइलों को सुव्यवस्थित रखने के निर्देश दिये। प्रसव कक्ष में काफी दिनों से नर्स नही आने की शिकायत पर कार्यवाही के निर्देश दिए। वैक्सिनेशन लिए उपस्थित आम जनता से बातचीत कर वैक्सीनेशन में कोई दिक्कत तो नहीं इसकी जानकारी ली। जिलाधिकारी ने ओ0पी0डी0 में देखें गए मरीजों से वार्ता कर स्वास्थ्य की जानकारी ली। कुछ दवाई स्टोर रूम में डेट एक्सपायरी पाई गई जिस पर कार्यवाही के निर्देश दिए।

विदित हो कि जिलाधिकारी के निरीक्षण में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र अमड़ा के प्रभारी चिकित्सक भी अनुपस्थित पाये गए ।चौकीदार द्वारा बताया गया कि डॉक्टर कई दिनों से नही आ रहे हैं। हमारे द्वारा मरीजों को दवा भी न रहने पर दे देते है। डीएम ने अनुपस्थित चिकित्सको का एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिये। लापरवाह एम ओ आई सी के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्था को देखते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी से जबाब तलब भी किया जायेगा।

इसके पश्चात जिलाधिकारी ने हेल्थ वेलनेस सेंटर पई बरहनी व ओयरचक हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का निरीक्षण किया गया। सामान्य वार्ड, प्रसव कक्ष, लेवर रूम, स्टोर रूम, दवा कक्ष सहित अन्य वार्डो का निरीक्षण किया गया। जिलाधिकारी ने चिकित्सक को निर्देश देते हुए कहा कि दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित रखा जाय । मरीजों की बेहतर ढंग से स्वास्थ्य की समस्याओं का इलाज सुनिश्चित करें। हिदायत देते हुए कहा कि लापरवाही पर कार्यवाही तय किया जायेगा।अंत में डीएम ने ओयरचक प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। डीएम द्वारा बच्चों से पठन-पाठन की जानकारी ली। कक्षा 6, 7 एवं 8 कक्षा के बच्चों से गणित का प्रश्न भी ब्लैक बोर्ड पर हल करवाया। इंग्लिश में बातचीत भी कर उनकी दक्षता देखी। साथ ही बच्चों से मिड डे मील की जानकारी ली। अध्यापक को निर्देशित करते हुए कहा कि करोना काल में जिन बच्चों की पढ़ाई पीछे छूट गई थी उनको अतिरिक्त क्लास चला कर बच्चों को पढ़ाया जाए ताकि पिछली कक्षा का भी बच्चे पूरी तरह जानकारी रखें। वहीं डीएम ने ओयरचक ग्राम प्रधान जयशंकर सिंह से बातचीत करते हुए कहा कि विद्यालय कैंपस की बाउंड्री वाल को मनरेगा योजना के तहत दुरुस्त कराने व परिसर में जमे हुए पानियों को निकालकर मिट्टी डालने के निर्देश दिए। कहा, परिसर में जलजमाव न हो। ग्राम प्रधान से कहा कि गांव में तैनात सफाई कर्मी से प्रतिदिन प्राथमिक विद्यालय को साफ-सफाई सुनिश्चित हो इसके अलावा गांव में प्रतिदिन सफाई व्यवस्था कराया जाए। डेंगू मलेरिया का प्रकोप गाँव में न होने पाये, लोगों को इसके लिए जागरूक करना होगा साफ- सफाई के लिये जागरूकता पैदा बनाया जाय।

रिपोर्ट : ओ पी श्रीवास्तव

Next Story
Share it