Top
Janta Ki Awaz

अस्पतालों में तैनात डॉक्टर मैनेजमेंट कार्यों से होंगे मुक्त

अस्पतालों में तैनात डॉक्टर मैनेजमेंट कार्यों से होंगे मुक्त
X

लखनऊ, श्रेया पाठक की रिपोर्ट

स्वास्थ्य विभाग और चिकित्सा शिक्षा विभाग के अलग-अलग अस्पतालों और कार्यालयों सहित जहां भी चिकित्सकों की तैनाती प्रशासनिक व प्रबंधकीय कार्यों में की गई है, उन्हें तत्काल कार्यमुक्त कर चिकित्सकीय कार्यों में ही लगाया जाए। प्रबंधन के कार्यों के लिए आवश्यकतानुसार एमबीए उपाधिधारक युवाओं को मौका दिया जाना चाहिए। प्रदेश में पांच जून को सीएम योगी आदित्‍यनाथ द्वारा दिए गए इस निर्देश के बाद प्रदेश के डॉक्‍टरों और चिकित्‍सीय विशेषज्ञों में खुशी की लहर देखने को मि‍ल रही है। डॉक्‍टरों ने प्रदेश सरकार के इस फैसले का स्‍वागत करते हुए इस फैसले का विरोध करने वालों के सभी तर्कों को बेबुनियाद बताया है। डॉक्‍टरों के अनुसार प्रदेश में इस फैसले के बाद चिकित्‍सीय सुविधाओं में विस्‍तार होगा साथ ही सालों से डॉक्‍टरों की कमी से जूझ रहे प्रदेश में एक बड़ा परिवर्तन भी देखने को म‍िलेगा।

पिछली सरकारों में जहां प्रदेश की चिकित्‍सीय सेवाएं जस की तस बनी हुई थी वहीं योगी सरकार ने जब से सत्‍ता की कमान थामी है तब से लेकर आज तक प्रदेश को बेहतर चिकित्‍सीय सुविधाओं की सौगात दी है। वाराणसी, प्रयागराज, सुल्‍तानपुर और लखनऊ के डॉक्‍टरों ने कहा कि सरकार के इस बड़े फैसले से बेहतर इलाज, दोगुनी क्षमता से कार्य और डॉक्‍टरों की किल्‍लत दूर होगी वहीं युवाओं को भी जल्‍द ही सरकारी अस्‍पतालों में रोजगार मिल सकेगा।

युवाओं के लिए खुलेंगे रोजगार के दरवाजे

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के पलमोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन के विभागाध्यक्ष डॉ. वेद प्रकाश ने बताया कि सीएम योगी ने प्रशासनिक व प्रबंधकीय कार्यों से चिकित्‍सकों को कार्यमुक्त कर चिकित्सकीय कार्यों में ही लगाए जाने के निर्णय से मैं बेहद खुश हूं। प्रबंधन के कार्यों के लिए आवश्यकतानुसार एमबीए के युवाओं को मौका म‍िलेगा। जिससे उनको रोजगार के नए अवसर प्राप्‍त होंगे।

दूर होगी डॉक्‍टरों की किल्‍लत

लखनऊ के एरा मेडिकल के डॉ एमएम ए फरीदी प्रिंसिपल डीन सीएमएस एंव प्रोफेसर ऑफ पीड्रियाट्रिक्‍स ने बताया कि यह एक शानदार निर्णय है। प्रदेश के अस्‍पतालों में इस निर्णय से सकारात्‍मक बदलाव देखने को मिलेंगे। प्रदेश काफी सालों से डॉक्‍टरों की किल्‍लत से जुझ रहा था पर अब प्रदेश सरकार के इस निर्णय से अस्‍पतालों में डॉक्‍टरों की किल्‍लत नहीं होगी।

बढ़ते मेडिकल कॉलेज के साथ बढ़ रही सुविधाएं

अयोध्‍या के कुमारगंज के डॉ एसएस श्रीवास्‍तव ने बताया कि प्रदेश सरकार एक ओर चिकित्‍सीय सेवाओं से लैस कर रही है वहीं सभी जपनदों में मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कर भविष्‍य के लिए प्रदेश को बेहतर चिकित्‍सा इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर की सौगात दे रही है। ऐसे में सालों से प्रशासनिक व प्रबंधकीय कार्यों में लगे हुए चिकित्‍सकों को कार्यमुक्‍त कर चिकित्‍सीय कार्यों में लगाए जाने से सकारात्‍मक परिवर्तन होंगे।

Next Story
Share it