Top
Janta Ki Awaz

जिले में मनाया गया प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस, कोरोना काल में दिवस पर लाभार्थियों ने दिखाया उत्साह

जिले में मनाया गया प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस, कोरोना काल में दिवस पर लाभार्थियों ने दिखाया उत्साह
X

चंदौली : कोरोना की घटती रफ्तार के कारण स्थगित स्वास्थ्य सेवाएँ धीरे धीरे शुरू हो गईं हैं । इसी क्रम में जनपद में बुधवार को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस का आयोजन सभी सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर मनाया गया। हर माह की नौ तारीख को आयोजित होने वाले प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर गर्भवती की निःशुल्क प्रसव पूर्व जांच (एएनसी) की सुविधाएं दी जाती हैं। इसके साथ ही परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत महिलाओं को जागरूक भी किया गया जाता है | मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ वी पी द्विवेदी ने बताया प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर पहली बार गर्भवती हुई महिलाओं को भी लाभ दिया जाता है और उन्हें प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ देने के लिए पंजीकरण कराने के लिए कहा जाता है । इस दिवस पर स्वास्थ्य केन्द्रों पर आईं गर्भवती की महिला चिकित्सकों द्वारा प्रसव पूर्व सभी जाँचें, ब्लड टेस्ट, यूरिन जांच, ब्लड प्रेशर, मधुमेह, सिफ़लिस, हीमोग्लोबिन जांच, अल्ट्रा साउंड की निःशुल्क सुविधा दी गई एवं परिवार नियोजन-खुशहाल परिवार के लिए परामर्श भी दिया गया । कोरोना के प्रति महिलाओं की साझेदारी व भागेदारी के लिए भी जागरूक किया गया।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी/परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ एस के सिंह ने बताया - हर महीने की नौ तारीख को गर्भवती की निःशुल्क एएनसी जांच की जाती है जैसे – मधुमेह का स्तर, ब्लड प्रेशर, हीमोग्लीबिन, अल्ट्रासाउंड से साथ गर्भवती के खतरे के लक्षण जैसे - भ्रूण का कम हिलना या न हिलना, तेज बुखार, त्वचा का पीलापन, हाथ पैरों व चेहरे पर सूजन, दौरे पढ़ना, उच्च रक्तचाप, तेज सरदर्द व धुंधला दिखाना, योनि से रक्त स्त्राव यदि कोई भी जोखिम भरी स्थिति की संभावना हो तो उससे बचने के लिए समय पर अस्पताल पहुंचाया जा सके | उन्होने बताया कि आज जिले में 750 महिलाओं की एएनसी जांच हुई जिसमें में 75 महिलाओं को उच्च जोखिम गर्भावस्था (एचआरपी) के लिए चिन्हित किया गया ।

यूपीटीएसयू के जिला परिवार नियोजन विशेषज्ञ ने बताया - कोरोना संक्रमण के कारण स्वास्थ्य विभाग के नियमित कार्यक्रम प्रभावित हो रहे थे | लेकिन कुछ दिन पूर्व से कोरोना के कम होते प्रभाव को देखते हुये पुन: सभी सेवाओं को शुरू किया जा रहा | इसके तहत महीने के हर नौ तारीख को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस का आयोजन कर मौजूदा कोरोना काल में विशेष कर गर्भवती महिलाएं को अपने खाने-पीने पर ध्यान देने के लिए जागरूक किया गया । जैसे - खाने में हरी सब्जियांए ,दाल ,दूध,ताजे फलों कासेवन करें | साथ ही कोरोना के मद्दे नजर साफ – सफाई पर विशेष ध्यान देने , बाहरी लोगों से दूरी बनाने , भीड़भाड़ का हिस्सा बिल्कुल न बनें | बहुत जरूरी हो तभी बाहर जायें। साफ धुले हुये दोहरे मास्क से अपने मुंह को कवर करें ।

लाभार्थी- रिता सिंह 26 वर्ष ने कहा की मेरी पहली प्रेग्नेंसी है। केंद्र पर मेरी जाँच हुई है,हमें टीका के लिए कब आना है,इस अवस्था में किन बातों का ध्यान रखना है। जानकारी दी गई। रश्मि देवी 32 वर्ष ब्लॉक धानापूर ने कहा कि मेरी 3 वर्षीय बेटी है,कोरोना के समय शहर नहीं जा सकती जाँच करने 5 महीना है। यह बहुत अच्छा सुविधा है। जाँच के दौरान हमें और मेरी बच्ची को कोरोना से सुरक्षित रखने की जानकारी दी गई ।

रिपोर्ट : ओ पी श्रीवास्तव

Next Story
Share it