Top
Janta Ki Awaz

उत्‍तर प्रदेश ने कोविड टीकाकरण में स्‍थापित किया एक नया कीर्तिमान, 8 अप्रैल से विशेष टीकाकरण अभियान चलेगा

उत्‍तर प्रदेश ने कोविड टीकाकरण में स्‍थापित किया एक नया कीर्तिमान, 8 अप्रैल से विशेष टीकाकरण अभियान चलेगा
X

श्रेया पाठक की रिपोर्ट

लखनऊ,

उत्‍तर प्रदेश ने कोविड टीकाकरण में एक नया कीर्तिमान स्‍थापित करते हुए दूसरे राज्‍यों को पीछे छोड़ दिया है। प्रदेश में पांच अप्रैल को टीकाकरण कराने वालों की संख्‍या में इजाफा होने से सर्वाधिक टीकाकरण कराने वाले राज्‍यों में यूपी अव्‍वल है। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के निर्देशन में एक ओर जहां टेस्टिंग का कार्य प्रदेश में तेजी से चल रहा है वहीं प्रदेश के ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में टीकाकरण की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। महाराष्‍ट्र, गुजरात, वेस्‍ट बंगाल, राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश और बिहार को पीछे छोड़ते हुए प्रदेश में पांच अप्रैल को 501599 टीकाकरण किए गए। जो सर्वाधिक है।

कहां कितने हुए टीकाकरण

पांच अप्रैल को बिहार में 258475, गुजरात में 3,24,934, मध्‍य प्रदेश में 2,61,057, महाराष्‍ट्र में 4,74,017, राजस्‍थान में 4,75,558, वेस्‍ट बंगाल में 4,11,562 टीकाकरण किया गया जिसमें उत्‍तर प्रदेश में सर्वाधिक 5,01,599 टीकाकरण किए गए।

आज से शुरू होगा इन विशेष लोगों का टीकाकरण अभियान

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के दिशा निर्देशानुसार 8 और 9 अप्रैल को प्रदेश में पत्रकारों, विभिन्‍न प्रतिष्‍ठानों के दुकानदारों का टीकाकरण किया जाएगा। इसके साथ ही 10 अप्रैल को बैंक कर्मचारियों, 12, 13 व 14 अप्रैल को स्‍कूल कॉलेज में अध्‍यापकों, 15 व 16 अप्रैल को बस ऑटो रिक्‍शा ड्राइवर, रेहड़ी पटरी दुकानदारों, 17 व 19 अप्रेल को सरकारी कार्यालयों के अधिकारियों व कर्मचारियों, 20 व 21 अप्रैल को अधिवक्‍ता ज्‍यूडिशियल कर्मचारियों और 22 व 23 अप्रैल को प्राइवेट कार्यालयों के अधिकारियों व निजी कर्मचारियों का टीकाकरण किया जाएगा। 45 साल से ऊपर के लोगों से इन तिथियों पर टीकाकरण कराने की अपील की गई है।

76,67,829 लोगों का हुआ टीकाकरण

प्रदेश में 45 वर्ष सेे अधिक आयु के लोगों का कोविड वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अब तक 65,00,506 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 11,67,323 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गयी है। इस प्रकार कुल 76,67,829 लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।

निगरानी समिति पुनः सक्रिय

प्रदेश में कोविड संक्रमण नियंत्रित करने के लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम निगरानी समिति, मोहल्ला निगरानी समिति को पुनः सक्रिय किया गया है। इन समितियों के माध्यम से अन्य प्रदेशों से आने वाले लोगों की पहचान कर, उनसे संक्रमण की जानकारी लेते हुए आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।

Next Story