Top
Janta Ki Awaz

महिला सशक्तिकरण को अभियान ''मिशन शक्ति'' का शुभारम्भ

महिला सशक्तिकरण को अभियान मिशन शक्ति का शुभारम्भ
X


 यह अभियान सतत चलते रहना चाहिए- केशरी देवी

 यह अभियान संस्कृतिक कार्यक्रम नहीं है बल्कि विचारों को बदलने का एक प्रयास- भानुचन्द्र गोस्वामी

प्रयागराज, 18 अक्टूबर 2020- शनिवार को शारदीय नवरात्र के प्रथम दिन एम.एन.एन.आई.टी. कॉलेज परिसर में फूलपुर सांसद केशरी देवी पटेल ने अभियान 'मिशन शक्ति' का शुभारंभ किया। इस अभियान का उद्देश्य जनपद की नारी गरिमा और स्वाभिमान को बनाए रखते हुए शिक्षा, सुरक्षा व सम्मान के संवैधानिक हक के प्रति जागरूक करना व पॉक्सो एक्ट एवं महिला अपराध संबंधी कानूनों का प्रचार-प्रसार कर महिला और बालिकाओं के स्वावलंबन को मजबूती देना है। सार्वजनिक स्थलों पर व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से कैंपेन चलाया जायेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस विशेष अभियान को प्रदेश भर में पूरे 180 दिन तक चलाये जाने का आदेश दिया है।

मुख्य अतिथि सांसद केशरी देवी पटेल ने कहा कि सभी लोग महिलाओं का आदर करें और संकल्प ले कि हम दहेज नहीं लेंगे । बेटी और बहू में कोई अंतर नहीं होना चाहिए। कई क्षेत्रों में बेटियां बेटों से आगे है, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान भी चलाया जा रहा है जिससे लड़कियों को आगे बढ़ने में मदद मिल रही है।

इस अवसर पर जिलाधिकारी भानु चन्द्र गोस्वामी ने कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं एवं लड़कियों तथा अधिकारीगणों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा मिशन शक्ति अभियान का आज शुभारम्भ किया गया है I इसी क्रम में जनपद में भी इस कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआ है। यह अभियान संस्कृतिक कार्यक्रम नहीं है बल्कि विचारों को बदलने का एक प्रयास है जिससे समज में सकारात्मक सोच की अलख जगाई जा सके। मिशन शक्ति अगले छः महीने तक चरणबद्ध रूप से चलता रहेगा इसका उद्देश्य लोगो को जागरूक करना है। समाज के चिंतन को बदलने की आवश्यकता है। सभी लोगो को नारी सुरक्षा, नारी सम्मान और नारी स्वाव्लम्बन को बढ़ाने के लिए आगे आना चाहिए। लैंगिंक समानता के बारे में लोगो को जागरूक करें। समाज को नई दिशा दें, नई पीढ़ी को भावों से भरें। उन्होंने कहा कि महिलाओं की प्रत्येक क्षेत्र में सहभागिता रहें। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने विभिन्न क्षेत्रों की महिला रोल माडल महिलाओं को प्रशस्ति पत्र एवं मोमेंटो देकर सम्मानित किया।

जिले से कुल 100 रोल माडल का होगा चयन

हर महीने यह अभियान एक-एक सप्ताह के लिए चलाने की भी योजना तैयार कर ली गई है। महिला कल्याण तथा बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग को दिनांक 19 अक्टूबर के लिए 'लीड विभाग' नियुक्त किया गया है। 25 अक्टूबर 2020 के उपरांत सभी अधिकारी/कार्मिक अपने दैनिक कार्यों/गतिविधियों के साथ 'मिशन शक्ति" के उद्देश्यों की प्राप्ति हेतु विभिन्न गतिविधियों का संचालन करेंगें। प्रस्तावित कार्ययोजना के आधार पर हर दिन अलग-अलग विभागों को 'लीड विभाग' के तौर पर नामित किया गया है। संबन्धित विभाग अभियान के अंतर्गत निर्धारित दिन पर अपने विभाग से संबंधित गतिविधियों को पूरे प्रदेश में 'ग्रैंड-इवेन्ट' के रूप में आयोजित करेंगे। जिसमें सामाजिक संगठन, महिला संगठनों के जागरूक समाज सेवियों की एक समिति बनाकर 100 रोल मॉडल चुने जाएंगे। 17 से 25 अक्टूबर का थीम (विषय) महिलाओं तथा बच्चों की सुरक्षा, सम्मान तथा स्वावलंबन, 14 से 20 नवम्बर का थीम (विषय) बाल व महिला अधिकार तथा मानसिक स्वास्थ्य व मनोसामाजिक परामर्श, 10 से 16 दिसम्बर 2020 का थीम महिलाओं तथा बच्चों की तस्करी तथा बलपूर्वक भिक्षावृति, बाल-श्रम, 24 से 30 जनवरी 2020 का थीम-कन्या भ्रूण हत्या, 14 फरवरी से 20 फरवरी 2021 का थीम (विषय) यौन अपराध, किशोरावस्था में किशोर-किशोरियों को समर्थन, 08 से 15 मार्च 2021 का थीम- घरेलू हिंसा तथा सुरक्षित यात्रा, 13 से 22 अप्रैल का थीम बाल विवाह है।

महिलाओं से सम्बंधित अपराध का फैसला फास्ट ट्रैक कोर्ट में -

महिलाओं की सुरक्षा के मद्देनजर घटित किसी भी प्रकार के अपराध का फैसला फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगा। पुलिस स्टेशन व जनपद की सभी तहसीलों में महिला शिकायतकर्ता के लिए कम से कम एक महिला हेल्पडेस्क व शिकायत कक्ष बनाया जाएगा जिसमें महिला कॉन्स्टेबल की भी तैनाती की जाएगी। महिलाओं तथा बालिकाओं को स्वावलम्बी बनाना, उनमें सुरक्षित परिवेश की अनुभूति कराना, जन-जागरूकता पैदा करना, आत्म सुरक्षा की कला विकसित करने के लिए महिलाओं तथा बच्चों को प्रशिक्षित करना उद्देश्य रहेगा I

इस अवसर पर ए.डी.जी.जोन प्रेम प्रकाश, आई जी के.पी. सिंह, एस एस पी शर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी, मुख्य विकास अधिकारी आशीष कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार राव, अर्चना सिंह, डॉ. कृतिका अग्रवाल, अर्चना शुक्ला, संगीता गोस्वामी, भूपेंद्र पांडेय, सांसद मीडिया प्रभारी उमेश तिवारी आदि मौजूद रहे।

Next Story
Share it