Top
Janta Ki Awaz

किसानों ने भाजपा विधायक कमल गुप्ता को घेरा, धक्कामुक्की भी की, कुर्ता फटा

किसानों ने भाजपा विधायक कमल गुप्ता को घेरा, धक्कामुक्की भी की, कुर्ता फटा
X

पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में किसानों ने हिसार से भाजपा विधायक डॉ. कमल गुप्ता को करीब 20 मिनट तक घेरे रखा। बाद में पुलिस सुरक्षा के बीच उन्हें रेस्ट हाउस से निकाला गया। उनको निकालते समय हुई धक्कामुक्की में विधायक का कुर्ता फट गया। किसानों ने गुरनाम सिंह चढ़ूनी की गिरफ्तारी के खिलाफ रामायण टोल प्लाजा पर जाम लगा दिया।

सोमवार को किसान संगठनों के सदस्य लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में बैठक कर रहे थे। इसी बीच किसानों को विश्राम गृह में हिसार के विधायक डॉ. कमल गुप्ता के आने की जानकारी मिली। कुछ आक्रोशित युवा किसानों ने विधायक को सीएम के बयान पर माफी मांगने की बात कही।

कुछ किसान युवाओं को समझाने का प्रयास करते दिखे। करीब 20 मिनट तक किसान उनके सामने अड़े रहे। आक्रोशित किसानों ने कहा कि यूपी में केंद्रीय मंत्री की गाड़ी ने लोगों की कुचल कर हत्या कर रही है। इसी बीच धक्कामुक्की के दौरान विधायक डॉ. कमल गुप्ता का कुर्ता साइड से फट गया। विधायक डॉ. कमल गुप्ता ने कहा कि ऐसा करने वाले किसान नहीं हो सकते। उन्होंने कहा कि कानून अपना काम करेगा।

शाम छह बजे लगाया जाम

शाम 6 बजे किसानों ने हिसार-दिल्ली मार्ग पर रामायण टोल प्लाजा पर जाम लगा दिया। किसानों ने कहा कि भाकियू के अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी को रिहा नहीं किया गया तो प्रदेश भर के टोल जाम करेंगे। जाम से दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लग गई। वहीं जाम में फंसने की डर से चार पहिया वाहन चालक बीच रास्त से ही लौट गए। वहीं, दो पहिया वाहन चालकों ने जैसे तैसे अपने आपको वहां से निकाला। साथ ही बसों ने अपना रास्ता बदल लिया। जाम में टैंकर और ट्रक ज्यादा फंसे थे।

ऐलनाबाद उपचुनाव को लेकर पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में बैठक बुला रखी थी। मैं जब वहां गया तो कुछ लोगों ने मुझे घेर लिया। उन लोगों ने वीडियो बनाते हुए कहा कि हमने कमल गुप्ता को बंधक बना लिया है। एक युवक ने पीछे से मेरा कुर्ता फाड़ दिया। ऐसा करने वाले किसान नहीं हो सकते। मैंने कहा- फाड़ना ही है तो आगे से फाड़ते। मैंने कोई शिकायत नहीं दी है। कानून अपना काम करेगा। - डॉ. कमल गुप्ता, विधायक, हिसार।

विधायक डॉ. कमल गुप्ता किसानों की बैठक में आए। उन्होंने किसानों को भड़काने का प्रयास किया। विधायक ने माफी नहीं मांगी तो हम छह अक्तूबर को उनके आवास का घेराव करेंगे। कुलदीप खरड़, किसान नेता।

Read more: https://www.amarujala.com/chandigarh/mla-kamal-gupta-faced-protests-of-farmers-in-hisar?src=top-lead-home-4

Next Story
Share it