Top
Breaking News

श्री काशी पंचकोशी यात्रा कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के प्रति कृतज्ञ हुए भा.वि.प. काशी के सदस्य

श्री काशी पंचकोशी यात्रा कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के प्रति कृतज्ञ हुए भा.वि.प. काशी के सदस्य

वाराणसी


काशी प्रदक्षिणा यात्राओं में एक पंचकोशी यात्रा को महाशिवरात्रि के पखवाड़े में तीन पीढ़ियों ने एक साथ पूरा किया, वो भी पूरे विधि विधान के साथ। जिसमे परिवार का सबसे बड़ा सदस्य 80 वर्ष का तो सबसे छोटा 5 वर्ष का। ये केवल एक परिवार की बात नही, बल्कि भारत विकास परिषद् काशी शाखा के ऐसे कई परिवार है जो 18 वर्षों बाद काशी शाखा द्वारा आयोजित पंचकोशी यात्रा में 150 श्रद्धालु पूरे परिवार के साथ शामिल हुए।

श्रद्धालु राजीव अग्रवाल ने बताया कि 5 वर्ष पहले यात्रा के मार्ग, मंदिर की दशा बहुत ही दयनीय हालत में थी, पर आज तस्वीर बदल चुकी है। रास्ते की बात करें तो पूरा मार्ग आरसीसी बन चुका ही है, थोड़ी थोड़ी दूर पर श्रद्धालुओं के सुविधा के लिये दिशा निर्देश सहित सूचना पट लगाये गये है। जिस पर यात्रा में आगे मिलने वाले मंदिरों की दूरी के साथ वहां उपलब्ध सुविधाओं जैसे सार्वजनिक शौचालय, धर्मशाला, कुण्ड आदि का पूरा विवरण अंकित है। साथ ही यात्रा संयोजक अरविन्द भालोटिया ने बताया कि विगत पांच वर्षों में राज्य व केन्द्र सरकार ने पंचकोशी यात्रा के लिये जो कार्य किया है वो अकल्पनीय था, जिसे उन्होने कर दिखा। जिसके लिये वो बधाई के पात्र है, जिससे हम जैसे बुजुर्ग श्रद्धालु जन सुविधाजनक तरीके से सपिरवार यात्रा पूरी कर सके।

काशी शाखा के अध्यक्ष भा.रजत मोहन पाठक ने कहा कि एक बार बातों ही बातों में पूर्व अध्यक्ष संतोष अग्रवाल ने बताया था कि 18 साल पहले उनके द्वारा पंचकोशी यात्रा का आयोजन किया गया था। उनके अनुभवों को सुनकर उन्होने भी यात्रा आयोजित कर उन अनुभवों से स्वयं के साथ अन्य सदस्यों को भी साक्षात्कार कराने की योजना बनायी। परन्तु इसमें सबसे बड़ी समस्या थी, संतोष अग्रवाल के पूर्व के अनुभव। परन्तु यात्रा के दौरान सभी ने जो देखा वो बेहद चौकाने वाला था, केवल पांच साल में इतना बदलाव। जिसे सिर्फ बयां करना बेइमानी होगी और जिसे सिर्फ यात्रा के दौरान ही अनुभव किया जा सकता है। तीर्थ क्षेत्र के चमत्कारी विकास के लिये वाराणसी के सांसद व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के प्रति हम परिषद् के सदस्य आभार प्रकट करते है और पत्र लिखकर अपनी भावनाओं से परिचित करायेंगे।

रिपोर्टर:-महेश पाण्डेय वाराणसी

Share it