Top

स्टेच्यू ऑफ यूनिटी SCO के आठ अजूबों में शामिल, विश्व के 8 अजूबों में भारत के 2 अजूबे शामिल

स्टेच्यू ऑफ यूनिटी SCO के आठ अजूबों में शामिल, विश्व के 8 अजूबों में भारत के 2 अजूबे शामिल

नई दिल्ली, । आठ देशों के अंतरराष्ट्रीय संगठन 'शंघाई सहयोग संगठन' (एससीओ) ने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को एससीओ के आठ अजूबो में शामिल किया है। एससीओ के आठ सदस्यों में भारत, पाकिस्तान, चीन, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, तजाकिस्तान, रूस और उज्बेकिस्तान शामिल हैं।




दुनिया भर की सात अजूबों में भारत का ताजमहल शामिल है। अब शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन ने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को विश्व के आठवें अजूबे में शामिल कर लिया है। महज सवा साल में ही स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर 31.09 लाख पर्यटकों ने मुलाकात ली है। जिससे स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को कुल 79.94 करोड़ रुपए की आवक हुई है।

विदेश मंत्री ने नोरोव से मुलाकात करने के बाद ट्वीट किया कि एससीओ के अन्य सदस्य देशों में पर्यटन के बढ़ावा के प्रयासों की सराहना करता हूं। उन्होंने कहा कि एससीओ के आठ अजूबों में स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का शामिल होना एक प्रेरणा के रूप में देखा जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 31 अक्तूबर 2018 को दुनिया के सबसे ऊंचे स्टेच्यू 'स्टेच्यू ऑफ इंडिया' का उद्घाटन किया था। अब यह दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल बन चुका है।

31 अक्टूबर 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नर्मदा जिले के केवडिया में विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का लोकार्पण किया था। इसके बाद देश-विदेश के पर्यटक स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर आने लगे है। स्टेच्यू ऑफ यूनिटी ने पर्यटकों की संख्या की तुलना में स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी को भी पछाड़ दिया है। विश्व के प्रतिष्ठित टाइम मैगजीन ने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के 100 श्रेष्ठ देखने लायक स्थलों में शामिल कर गुजरात का गौरव बढ़ाया है। टाइम मैगेजीन की वर्ष 2019 की सूची में विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को अग्रिम स्थान दिया है। निर्माण होने के कुछ ही समय में ही स्टेच्यू ऑफ यूनिटी विश्वभर के पर्यटकों के लिए घुमने-फिरने के लिए श्रेष्ठ विकल्प बना है।

जानें- विश्व के सात अजूबे कौन- कौन है

हाल ही में शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन ने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को विश्व के 8वें अजूबे में शामिल किया है। अब चीन की दीवार, जॉर्डन का पेट्रा, रोम-ईटली का कोलेजियम, मैक्सिको शहर चिचेन इटजा, पेरू का मायुपीयु ,भारत का ताजमहल तथा ब्राजील का क्राइस ऑफ रिडीमर के बाद देश का आठवां अजूबा के तौर पर सरदार पटेल की प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का नाम लिया जाएगा।

बता दें कि अब विश्व के 8 अजूबों में भारत के 2 अजूबे शामिल हुए है। इसकी जानकारी भारत सरकार के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने ट्विटर के जरिए दी है। उन्होंने बताया है कि शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन द्वारा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को विश्व की 8 अजूबों में शामिल करने के बाद पर्यटन उद्योग को फायदा होगा। शंघाई कॉर्पोरेशन के सदस्य देशों में प्रचार-प्रसार करेंगे। शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन का ग्रुप केवडिया आकर जरूरी जानकारी पर्यटकों की संख्या और आवक सहित का आंकड़ा एकत्रित करेगा। इसके बाद घोषणा कर विश्व के आठवें अजूबे में इसे शामिल करने की प्रक्रिया चल रही है।

Share it