अवैध संबंधों के शक में पत्नी का गला दबाने के बाद लगा दी आग

अवैध संबंधों के शक में पत्नी का गला दबाने के बाद लगा दी आग

फर्रुखाबाद, । कायमगंज के ग्राम मंझोला में अवैध संबंधों के शक में विवाहिता की जान चली गई। मंगलवार को झगड़ा करने के बाद पति ने पहले पत्नी को पीटा और फिर उसे आग में जलता छोड़कर फरार हो गया। आग की लपटों में घिरी उसकी पत्नी चीखती चिल्लाती रही लेकिन उसे रहम नहीं आया। पिता ने भी बेटे पर ही बहू की हत्या करने का आरोप लगाया है। वहीं पुलिस ने पड़ोसियों से पूछताछ के बाद घटना की गहन छानबीन शुरू की है।

नाबालिग से की थी दूसरी शादी

ग्राम मंझोला में रहने वाले 35 वर्षीय घनश्याम शाक्य ने पांच साल पहले नाबालिग सुनीता से दूसरी शादी की थी। पहली पत्नी विमला एटा जिला के जैथरा की रहने वाली थी। करीब छह वर्ष पहले उसने कलह के चलते जहर खाकर खुदकशी कर ली थी। उसकी मौत के एक साल बाद घनश्याम ने गोरखपुर क्षेत्र की सुनीता से दूसरा विवाह कर लिया था, उस समय सुनीता की आयु 15 वर्ष थी।

आग की लपटें देखकर पहुंचे पड़ोसी

सोमवार की रात अचानक आग की तेज लपटें और चीख पुकार सुनकर पड़ोसी घनश्याम के घर पहुंचे। लपटों में घिरी सुनीता पर रजाई व मोटे कपड़े डालकर आग बुझाई लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई थी। घर से पति घनश्याम घर से भाग गया था। सूचना पर कोतवाल विनयप्रकाश राय व उपनिरीक्षक श्वेता शर्मा फोर्स के साथ पहुंचे। ग्रामीणों ने मुताबिक घनश्याम गोरखपुर से निर्धन परिवार की सुनीता रुपये देकर ले आया था, जिससे उसके मायके वालों का कोई पता नहीं है। उसकी पत्नी काफी खूबसूरत थी, जिसके चलते वह उसपर अवैध संबंधों को लेकर शक करता था। तहसीलदार भूपाल सिंह भी मौके पर आए।

बेटे और ससुर ने बयां की सच्चाई

पहली पत्नी विमला से घनश्याम के तीन पुत्र हैं, जो साथ ही रहते थे। बड़े पुत्र दस वर्षीय अनीश के मुताबिक रात में पापा-मम्मी में झगड़ा हुआ था। इसके बाद पापा ने मोटे डंडे से मम्मी को पीटा था, फिर गला दबाने के बाद मिट्टी का तेल डाल कर आग लगा दी थी। ससुर दाताराम ने भी कहा कि पुत्र व बहू में रोज झगड़ा होता था। अवैध संबंध के शक में बेटे ने ही आग लगा कर बहू को मार दिया। प्रभारी निरीक्षक विनयप्रकाश राय ने बताया कि जांच की जा रही है कि मामला हत्या का है या आत्महत्या का।

Share it
Top