सैफई स्पोर्ट्स कॉलेज में नाबालिग छात्रा ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

सैफई स्पोर्ट्स कॉलेज में नाबालिग छात्रा ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

सीओ सैफई मस्सा सिंह मामले को दबाने में जुटे, सीओ बोले पिता नही चाहता एफआईआर तो क्या करे पुलिस

सुसाइड नोट में कोच की पत्नी यामिनी मेडम का जिक्र, पुलिस बचाने में जुटी

सैफई ( इटावा ) सैफई के मेजर ध्यानचंद्र स्पोर्ट्स कालेज के महिला होस्टल में एक 15 वर्षीय नाबालिग छात्रा ने पंखे से फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली, पुलिस आत्महत्या के कारण का पता लगाने में जुटी है।

सलोनी पुत्री विजय कुमार निवासी जरार थाना वाह जिला आगरा बैडमिंटन की खिलाड़ी थी और स्पोर्ट्स कालेज की कक्षा 8 की छात्रा थी। आयना गुप्ता व अनुष्का दोनो एक साथ रहती थी आयना ने बताया कि दीदी रात को डायरी में लिख रही थी धीरे धीरे बोल कर कि में जिंदगी से तंग आ गयी हूँ यह कदम तो मुझे बहुत पहले उठा लेना चाहिए था।

उसके बाद हमने जानने की कोशिश की तो कह दिया कोई बात नही उसके बाद हम लोग सो गए सुबह जब 4 बजे जगे तो देखा सलोनी पंखे से लटकी हुई है और दुपट्टे से उसने फांसी लगा ली।

सलोनी के पिता विजय कुमार का कहना है कि अपनी पुत्री के आत्महत्या के मामले में कॉलेज प्रशासन पर वह कोई आरोप नहीं लगा रहे हैं और न ही वह है कोई कानूनी कार्रवाही करना चाह रहे हैं।

वही छात्रा के रुम से बरामद सुसाइड नोट में यामिनी मेम का जिक्र आया है। यामिनी एक कोच की पत्नी है और उनका छात्रा से क्या कनेक्शन है यह जांच का विषय है लेकिन सैफई सीओ इस मामले को दबाने में जुटे है जब सैफई संवाददाता ने उनसे बात की तो उन्होंने बताया कि लड़की का बाप कोई कार्यवाही नही चाहता तो पुलिस कैसे कार्यवाही करें, जब सीओ से सुसाइड नोट का जिक्र किया गया तो सीओ ने कहा कि एसपीआरए के निर्देश का इंतजार है वो जैसा आदेश देंगे कार्यवाही की जाएगी।

स्पोर्ट्स कालेज के प्रधानाचार्य एस० के० लहरी से जब इस मामले में बात की गई तो वह हर बात में अनिभिज्ञता जाहिर करते रहे और सवालों से बचते नजर आए।











Share it
Top