एक घंटे तक खंभे बांधकर से पल्लेदार को दीं यातनाएं

एक घंटे तक खंभे बांधकर से पल्लेदार को दीं यातनाएं

कन्नौज । छिबरामऊ में मानवीय संवेदनाएं उस समय तार-तार हो गईं, जब युवकों ने पल्लेदार को एक घंटे तक यातनाएं। उसे खंभे से बांधकर पीटते रहे, किसी तरह लोगों ने हिम्मत जुटाकर उसे बचाया। वहीं परिजन भी इस कद भयभीत हो गए कि पुलिस को भी सूचना नहीं दी। उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कन्नौज की कोतवाली छिबरामऊ के ग्राम बहबलपुर निवासी सनी (25) निगम मंडी परिसर में पल्लेदारी करके परिवार का भरण पोषण करता है । शुक्रवार को भी वह रोज की तरह काम पर गया था। रात को मंडी सड़क पर एक वैगनआर कार खड़ी थी। ट्रैक्टर चालकों को निकलने में दिक्कत हो रही थी। कुछ लोगों के कहने पर सनी ने कार को हटाने का प्रयास किया तो वह एक टट्टर से टकरा गई। वहां बैठे कुछ युवक नाराज हो गए तो सनी ने गलती के लिए माफी मांगी। इसके बाद भी युवकों को रहम नहीं आया और गाली गलौज करते सनी को पीटने लगे। इसके बाद उसे खंभे से बांध दिया और एक घंटे तक उसे यातनाएं देते रहे।

उसकी चीख-पुकार सुनकर लोगों की भीड़ लग गई। कुछ लोगों ने बीच बचाव करके उसे छुड़वाया। साथी पल्लेदार रात में गांव ले गए। हालत गंभीर होने पर शनिवार दोपहर परिजन अस्पताल लेकर आए। मां सरला व पत्नी रेनू का कहना है कि खंभे से बांधकर बहुत बुरी तरह पीटा है। डर के कारण पुलिस में शिकायत नहीं की है। अगर शिकायत करेंगे तो दोबारा सनी के साथ मारपीट की जाएगी। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार मिश्रा ने बताया कि घटना की जानकारी की जाएगी, तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।

Share it
Share it
Share it
Top