अवैध खनन पर शिकंजा : विशेष सचिव उतरी मैदान में, आधी रात को डंपरों की चेकिंग, सिफारिशी नेताओं को मिली फटकार

अवैध खनन पर शिकंजा : विशेष सचिव उतरी मैदान में, आधी रात को डंपरों की चेकिंग, सिफारिशी नेताओं को मिली फटकार

कानपुर, । खनन घोटाले में सीबीआइ की जांच के बाद मौरंग का अवैध कारोबार करने वालों पर शिकंजा कसने के लिए विशेष सचिव एवं निदेशक भू तत्व व खनिज डा. रोशन जैकब ने खुद मैदान में उतरकर कार्रवाई शुरू की है। शुक्रवार आधी रात अफसरों की टीमें गठित कर खुद शहर में राजमार्ग से गुजरे मौरंग लदे ओवरलोड ट्रकों की चेकिंग कर कार्रवाई शुरू की।

सपा-बसपा सरकार की तर्ज पर बगैर रॉयल्टी दिए ओवरलोडिंग को लेकर शासन ने गंभीरता दिखाई है। विशेष सचिव एवम निदेशक भू तत्व व खनिज डा. रोशन जैकब शुक्रवार देर रात कानपुर आईं। यहां उन्होंने सीडीओ अक्षय त्रिपाठी, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट शशांक चौधरी व एसीएम-5 प्रेरणा सिंह को घाटमपुर बुलाया और अलग अलग चार टीमें बनाईं। इसके बाद रात 1.45 बजे से मौरंग लाद कर सागर राजमार्ग से गुजरने वाले ट्रकों व डंपरों की चेकिंग शुरू कराई।

शहर के थानों से लिया फोर्स, स्विच ऑफ कराए मोबाइल

विशेष सचिव ने अभियान की गोपनीयता बनाए रखने के हर संभव प्रयास किए। उन्होंने सर्किल के थानों से परहेज रख शहर के कोहना समेत कई थानों का पुलिस बल साथ रखा। चेकिंग शुरू करने से पूर्व टीमों के सभी सदस्यों के मोबाइल फोन स्विच ऑफ करा कब्जे में ले लिए थे।

भौगोलिक जानकारी के चलते गुमराह न कर सका मातहत

डॉ. रोशन जैकब इससे पहले कानपुर की डीएम रही हैं। इसके चलते उन्हें घाटमपुर व सजेती क्षेत्र की भौगोलिक जानकारी है। चेकिंग के दौरान साथ रहे खनिज विभाग के एक कनिष्ठ अफसर ने उन्हें गुमराह करने की कोशिश की तो डा. जैकब ने तेवर दिखाते हुए खुद घाटमपुर चौराहे से अलियापुर टोल प्लाजा, सजेती, आनूपुर मोड़, दुर्गादेवी तिराहा से यमुना नदी पुल तक के नाकों पर टीमों को तैनात कर वाहनों पर कर्रवाई की। कई ट्रकों में नंबर प्लेट गायब व गलत नम्बर लिखे पाए गए हैं।

सिफारिशी नेताओं को मिली फटकार

बगैर रॉयल्टी वाले ओवरलोड ट्रकों की धरपकड़ शुरू होते ही अवैध मौरंग कारोबार के संरक्षक बने नेताओं की नींद उड़ गई। टीम में शामिल अफसरों के मोबाइल स्विच ऑफ मिलने के बाद कई नेताओं ने सीधे डॉ. रोशन जैकब को ही फोन मिलाया। भोर पहर करीब तीन बजे जहानाबाद रोड स्थित चाय की दुकान के समीप मौजूदगी के दौरान उन्होंने मोबाइल पर एक नेता को जमकर लताड़ लगा हिदायत दी। अभियान में शामिल रहे सीओ शैलेन्द्र सिंह ने बताया कि चेकिंग के दौरान पचास से अधिक ओवरलोड ट्रक व डंपर पकड़े गए है। इसमें कई के पास रॉयल्टी प्रपत्र भी नहीं मिले हैं। खनन निरीक्षक की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Share it
Top