ताबड़तोड़ एनकाउंटर के बाद योगी राज में घटा अपराध का ग्राफ

ताबड़तोड़ एनकाउंटर के बाद योगी राज में घटा अपराध का ग्राफ

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा है कि पूर्ववर्ती सरकारों के कार्यकाल के मुकाबले मौजूदा सरकार के समय अपराध कम हुए हैं. पुलिस के आंकड़े के अनुसार अब तो डायल—100 पर भी कम मामले दर्ज हो रहे हैं. सिंह ने गुरुवार को सिद्धार्थनगर में मीडिया से कहा कि सभी मामले दर्ज किये जा रहे हैं और कुल मिलाकर राज्य में पूर्व की सरकारों के कार्यकाल के मुकाबले मौजूदा समय में अपराध कम हुए हैं. हालांकि जब से योगी सरकार आई है, राज्य में हुए ताबतोड़ एनकाउंटर के कारण वो विपक्ष के निशाने पर ही रही.

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि एक लाख पुलिस कांस्टेबलों की भर्ती का लक्ष्य तय किया गया है. इस समय 42 हजार नवनियुक्त पुलिसकर्मी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं, जबकि लगभग 50 हजार और कॉन्स्टेबलों की भर्ती की जाएगी. उन्होंने कहा, 'साइबर अपराध नियंत्रित करने के लिए पुलिस आईआईटी—कानपुर और बिटस—पिलानी जैसे संस्थानों की मदद ले रही है. पुलिस ने एक ऐप लांच किया है जिसके जरिए प्राथमिकी दर्ज की जा सकती है. सप्ताह भर में 50 हजार लोगों ने इस ऐप को डाउनलोड किया है.'

पुलिस बल के काम गिनाते हुए सिंह ने कहा कि ऑपरेशन मुस्कान के तहत हो रही कार्रवाई के कारण लापता बच्चे सकुशल वापस अपने घर पहुंच पा रहे हैं. आत्मरक्षा से जुड़े अभियान के तहत महिलाओं को मजबूत किया जा रहा है. आपरेशन डेस्ट्राय के तहत अश्लील साहित्य को नष्ट किया गया है.

पुलिस महानिदेशक ने पुलिस के कामकाज की सराहना करते हुए कहा कि आने वाले समय में पुलिसिंग प्रौद्योगिकी और क्षमता पर आधारित होगी. बेरोजगार युवाओं के लिए पुलिस बल में तमाम मौके हैं. पुलिस में जनता का भरोसा बढ़ा है. पुलिस कार्रवाई के चलते अपराधी जमानत नहीं ले रहे हैं और वापस जेलों में जा रहे हैं.

सिंह ने कहा कि अपराध का ग्राफ गिरा है और राज्य में सांप्रदायिक सौहार्द है. सभी त्यौहार शांतिपूर्वक मनाये गये और कोई सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि पुलिस महिलाओं के अधिकारों की सुरक्षा के लिए पूरी तरह मुस्तैद है

Share it
Share it
Share it
Top