Top

कानूनन ले जा रहे थे मवेशी, पीट-पीटकर ली एक की जान, मंत्री बोले- 'गोरक्षकों' ने किया अच्छा काम

कानूनन ले जा रहे थे मवेशी, पीट-पीटकर ली एक की जान, मंत्री बोले- गोरक्षकों ने किया अच्छा काम

जयपुर
राजस्थान के अलवर में कथित गोरक्षकों की भीड़ द्वारा मवेशी लेकर जा रहे मुस्लिम समुदाय के 15 लोगों पर किए गए हमले में बुरी तरह जख्मी होकर सोमवार को पहलू खान की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में हत्या का केस दर्ज कर लिया है और तीन लोगों को अरेस्ट किया है। लेकिन, राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया का मानना है कि 'गोरक्षकों' ने अच्छा काम किया, लेकिन लोगों की पिटाई कर उन्होंने कानून का उल्लंघन किया।

एक मीडिया रिपोर्ट के हवाले से कहा गया है कि पशु लेकर जा रहे इन लोगों के पास जयपुर नगर निगम और दूसरे सरकारी महकमों द्वारा जारी की गई वैध पर्चियां और रसीदें थीं, जो उन्हें इन मवेशियों को ले जाने की कानूनी इजाजत देती थीं। वहीं, राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि जब वे जानते थे कि राजस्थान में गायों की तस्करी पर प्रतिबंध है तो आखिर वे ऐसा क्यों कर रहे थे?


भीड़ के हमले में अन्य लोगों के साथ बुरी तरह से पिटाई के शिकार हुए 55 साल के पहलू खान ने सोमवार रात 3 अप्रैल को दम तोड़ दिया था। खान हरियाणा के रहने वाले थे। हमले में घायल उनके 4 अन्य साथी भी अस्पताल में भर्ती हैं। बताया जाता है कि भीड़ द्वारा घेरे जाने के बाद खान और उनके साथियों ने पर्चियां भी दिखाईं कि वे इन पशुओं को जयपुर के पशु मेले से खरीदकर लाए हैं, लेकिन उनकी एक नहीं सुनी गई। भीड़ ने उन लोगों को हाइवे पर उनके पिकअप वैन से खींच लिया और दौड़ा-दौड़ाकर पिटाई की।

Share it