Top
Breaking News

NRC पर चर्चा करने पाक गए थे मणिशंकर अय्यर, भाजपा हुई हमलावर

NRC पर चर्चा करने पाक गए थे मणिशंकर अय्यर, भाजपा हुई हमलावर

लाहौर, । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने पाकिस्तान में भारत के आंतरिक मामले पर चर्चा कर एकबार फिर आलोचनाओं को दावत दे दी है। दरअसल, उन्होंने वहां ऐसा दावा किया कि एनपीआर और एनआरसी के मुद्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के बीच मतभेद हैं। आपको बता दें कि मणिशंकर सोमवार को पाकिस्तान में एक डिबेट में शामिल हुए थे। बताया जा रहा है कि डिबेट में पाक पीएम इमरान खान के सहयोगी भी मौजूद थे, जिसके बाद बीजेपी मणिशंकर पर हमलावर हो गई है।

पैनल चर्चा के दौरान मणिशंकर ने कहा कि मोदी और शाह दोनों ही भारत में हिंदुत्व का चेहरा हैं। उन्होंने कहा, 'नरेंद्र मोदी सरकार में एनपीआर को एनआरसी लाने के रास्ते के रूप में देखा जा रहा है। संसद में, गृह मंत्री ने कहा और लिखित में आश्वस्त भी किया कि यह एनआरसी के पहले का कदम है।'

पाकिस्तान की मदद से भारत में अशांति पैदा करना चाहते हैं मणिशंकर अय्यर: उमा भारती

भाजपा नेता उमा भारती ने मणिशंकर अय्यर को लेकर बयान दिया है। उमी भारती ने कहा कि मणिशंकर एक शिक्षित व्यक्ति हैं जो विदेशी मामलों के जानकार हैं, इसलिए, वह पाकिस्तान की मदद से, भारत में अशांति पैदा करने के लिए, उचित योजना के साथ वहां (लाहौर) गए थे। हिंदुओं और मुसलमानों को विभाजित करके कांग्रेस 1947 जैसी स्थिति पैदा कर रही है।

'किसका हाथ मजबूत है, हमारा या उस कातिल का?'

बता दें कि कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर मंगलवार को दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में सीएए और एनआरसी को लेकर प्रदर्शन में शामिल हुए। अय्यर ने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से सबकुछ करने के लिए तैयार हूं। जो भी कुर्बानियां देनी हों, उसमें भी तैयार हूं। अब देखें किसका हाथ मजबूत है, हमारा या उस कातिल का? शाहीन बाग में 15 दिसंबर से सीएए-एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है।

'मणिशंकर अय्यर पाकिस्तान के एजेंट'

पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के बयान पर पलटवार करते हुए सहारनपुर, देवबंद भाजपा के पूर्व नगर अध्यक्ष गजराज राणा ने विवादित बयान दिया। उन्होंने अय्यर की तुलना जानवर से करते हुए कहा कि वह अपने माता-पिता की संतान नहीं हैं ।दिल्ली में मंगलवार को सीएए के विरोध में चल रहे धरने के दौरान मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र पर विवादित टिप्पणी की थी। कहा था-हम देखते हैं किसके हाथ मजबूत हैं, हमारे या कातिल के? गजराज राणा ने बुधवार को एक चैनल को दिए बयान में अय्यर की तुलना जानवर से, जबकि प्रधानमंत्री की तुलना बब्बर शेर से की। भाजपा नेता ने कहा कि दिमागी संतुलन खो बैठे मणिशंकर पाकिस्तान के एजेंट हैं।

Share it
Top