महाराष्ट्र में तुरंत फ्लोर टेस्ट नहीं, SC में कल तक के लिए टली सुनवाई

महाराष्ट्र में तुरंत फ्लोर टेस्ट नहीं, SC में कल तक के लिए टली सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र मामले पर आज कोई फैसला नहीं सुनाया. कोर्ट अब इस मामले की कल 10.30 बजे करेगा सुनवाई. कोर्ट ने गवर्नर का आदेश और समर्थन पत्र कल सुबह तक तलब किया.

मुकुल रोहतगी ने कहा कि कल के लिए प्रोटेम स्पीकर की शपथ, विधायकों को शपथ और फिर राज्यपाल का संक्षिप्त भाषण और फिर टेस्ट हो जाए. सदन कोर्ट का और कोर्ट सदन का सम्मान करता है. यही सत्य है. नहीं तो कहीं विधानसभा कल को पास कर दे कि सुप्रीम कोर्ट दो साल में सारे मामले निपटाए. दो तीन दिनों का वक्त भी दिया जा सकता है. सभी अपने हलफ़नामे कोर्ट के सामने रखें. उन्होंने कोर्ट में कहा कि राज्यपाल को इम्युनिटी है. उन्होंने नियुक्त कर दिया.अब तो फ्लोर टेस्ट ही होगा. इसके बाद जस्टिस रमन्ना कहा कि लेकिन हर चीज़ के लिए लॉ सेट है. नियम तय हैं. तब रोहतगी ने कहा कि अब सवाल है कि कोर्ट क्या करे और क्या कर सकता है.. इस पर जस्टिस भूषण ने कहा कि हमें तो ये भी नहीं पता कि क्या और कैसे किस प्रक्रिया के तहत हुआ? रोहतगी ने कहा कि तभी तो हम कह रहे हैं कि लोगों को इतनी जल्दी मचाकर रविवार को सबको परेशान करने की ज़रूरत क्या थी?

Share it
Top