बालाकोट एयर स्ट्राइक: विदेशी पत्रकार का दावा- 130-170 जैश-ए-मोहम्मद आतंकी मारे गए

बालाकोट एयर स्ट्राइक: विदेशी पत्रकार का दावा- 130-170 जैश-ए-मोहम्मद आतंकी मारे गए

नई दिल्ली: पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक को लेकर नया खुलासा सामने आया है। विदेशी जर्नलिस्ट ने इस स्ट्राइक में जैश-ए-मोहम्मद के 130 से 170 आतंकियों के मारे जाने का दावा किया है। पत्रकार फ्रांसेस्का मैरिनो ने रिपोर्ट में लिखा है कि स्थानीय सूत्रों का कहना है कि शिविर में अभी भी लगभग 45 व्यक्तियों का इलाज चल रहा है, लगभग 20 लोगों की मौत चोटों के कारण इलाज के दौरान हुई। उस क्षेत्र को अभी भी सील किया हुआ है। उन्होंने बताया कि घायलों का अस्पताल में इलाज नहीं हो रहा है। वे एक अस्थायी सुविधा में हैं।

उन्होंने कहा, 'जैसे ही सेना की टुकड़ी वहां पहुंची तो घायलों को शिनकियारी में स्थित हरकत-उल-मुजाहिदीन शिविर में ले जाया गया और पाकिस्तान के सेना के डॉक्टरों ने उनका इलाज किया। जो लोग चोट से रिकवरी कर रहे हैं, वे अभी भी सेना की हिरासत में हैं और उन्हें छुट्टी नहीं दी गई है। मारे गए लोगों में 11 प्रशिक्षक शामिल थे, जिनमें बम बनाने वाले से लेकर हथियार प्रशिक्षण देने वाले लोग शामिल थे। इनमें से दो ट्रेनर अफगानिस्तान के थे।'

खबर लीक ना हो इसे रोकने के लिए जैश के सदस्यों के एक समूह ने मारे गए लोगों के परिवारों का भी दौरा किया और उन्हें नकद मुआवजा सौंपा।

लेख में लिखा है, 'जैसा कि अब सर्वविदित है भारतीय वायुसेना की स्ट्राइक लगभग 3.30 बजे की गई थी। मेरे विचार के अनुसार, एक आर्मी यूनिट शिनकियारी में अपने शिविर से 26 फरवरी को लगभग 6 बजे, ढाई घंटे बाद स्ट्राइक के स्थान पर पहुंची। शिनकियारी बालाकोट से लगभग 20 किलोमीटर दूर है, और सेना की यूनिट को उस स्थान तक पहुंचने में लगभग 35-40 मिनट का समय लगा होगा जहां से शिविर पर चढ़ाई शुरू होती है।'

Share it
Top