Top

रामचरन-काका संवाद

रामचरन-काका संवाद

गोड़ लागिंले काका......

जीयs जीयs ...... का हाल बा रामचनर? कँहा रह तारs हो, तूं त एकदम सरकारी फसल बीमा के पइसा नियर नापता हो गइलs मरदे.....

- नापाता नइखीं भइल काका, गांवहि त रहतानी।

- गाँवे कहाँ रहतारे रे? अखिलेश यादव झूठ के ठीका तोरे के देहले ह का रे? जबसे यूपी में सामाजवाद बा सगरो डाकदर इंजीनियर दुकाहे यूपी छोड़ के भगतारे..... कुछ त दुनिए छोड़ के भाग गइलें। हम त कहीं कि तेहूँ भाग गइले....

- ए काका, यूपी में दुशासन के सुशासन पर भासन देब त राउर रासन किरासन बन हो जाइ। तनी धीरे से बोलीं।

- देखs तारे नु हई लबदवा..., मार के तोर बंगाल फुला देब। हमार रासन के बन करी रे??

- आहि दादा, ए बेरा ले त हम मार के फुलावल त सुनने रहनी हं, ई बंगाल कब से हो गइल जी...

- भक... डेयर इज नो डिफ़रेंस बिटवीन पाकिस्तान एंड बंगाल इन ममता गवर्मेन्ट......

-भक काका..... हम यूपी के नेता हईं, हमरा से अंग्रेजी बुझाई? भोजपुरी में बोलीं।

-छोड़ छोड़, तोरा बस के नइखे। सांच बताव जे कहाँ रहतारे ए घरी?

- बै काका, देखत नइखीं यूपी में विधानसभा चुनाव आइल बा, खूब चांपल बनता....

- आच्छा..... तबे त कहीं जे रामचरना नइखे लउकत। तब त तोर दसो अंगुरी घीव में होइ रामचनर।

- घीव में????? बक महराज, कवना जबाना में बानी रउवा, दसु अंगूरी बियर में बा बियर में.....

हम त कहि देले बानी कि आज से चुनाव के दिन ले जे रोज हमारा के देसी मुर्गा आ बिदेशी बियर पियाई, भोट ओकरे के दियाइ।

- जा ए ससुर...... रे कहीं भोट दारू से बेचल जाला? तें त साफ लेंढा हो गइल बाड़े रे.....

- आच्छा...... त ए काका, तू त हर बेर सबसे निमन नेता के भोट डेत होखबs ?

-हं हो, हम हर बेरी निमन कंडी-डेट के भोट देनी। निमन कंडी-डेट जीती तबे नु गांव के बिकास होइ, हमनी के बिकास होइ।

- त तहार बिकास हो गइल बा?

- हें...........???? हें हें हें हें.....

- तनी देखीं तहार केने कोठा अमारी झूलता?

-भक बुरबक।

- भक भक जन कर..... चुनाव में जवने लहि जॉव लहा लेबे के चाही, ना बाद में पांच साल कवनो तहार हालो चाल पूछे ना आई।

- जा रे जमाना.... जइसन नेता ओइसन जनता....,

-ए काका एगो बात पूछीं?

-पूछ पूछ.....

- बात का, एगो राय लेबे के रहल ह....

- कहु ना रे, कवन राय लेबे के बा?

- ए काका सोचत रहनी हं जे हमु विधायकी के चुनाव लड़ जाईं... कइसन रही?

- विधायकी लड़बs,,,, आच्छा ई बताव, 19 के पहाड़ा इयाद बा?

-ना

-भारत के पहिलका राष्ट्रपति के रहे?

-नइखीं जानत

- परधानमंत्री?

-नइखीं जानत।

-भारत के चौहद्दी जानतारे?

-ना

-आखिरी सवाल, हिन्दी में एक पाना के दरखास लिख देबे?

-बै काका, उ त प्राइमरी स्कूल के कई जाना मास्टर औरी शिक्षामित्र लोग त लिखिए ना पावेला, त हम नेता हो के,के तरे लिख देब? हमसे ना लिखाई.....

- बाह बेटा... तोरा में नेता बने के सब काबिलियत भरल बा। लड़ जो लड़ जो....

- जय हो काका... आशीर्वाद रही नु राउर?

-काहे ना रही रे,, जब गदहे चुने के बा त अपने गदहवा ना चुनेब। जरूर चुनेब। हमार भोट तोरे मिली।

बाह काका....

-जीव बेटा....

जय हो जय हो......

मोतीझील वाले बाबा

सर्वेश तिवारी श्रीमुख

Share it