Top
Janta Ki Awaz

निकाय चुनाव बाद होगी भाजपा के नए जिलाध्यक्षों की घोषणा, अग्रिम मोर्चों के अध्यक्ष भी बदले जाएंगे

निकाय चुनाव बाद होगी भाजपा के नए जिलाध्यक्षों की घोषणा, अग्रिम मोर्चों के अध्यक्ष भी बदले जाएंगे
X

भाजपा की नई प्रदेश टीम की घोषणा होने के बाद अब पार्टी के 98 संगठनात्मक जिलों में नए जिलाध्यक्षों की नियुक्ति का इंतजार है। पार्टी निकाय चुनाव अप्रैल-मई में होने की स्थिति में चुनाव के बाद ही नए जिलाध्यक्षों की घोषणा की जाएगी।

प्रदेश में भाजपा के 98 संगठनात्मक जिले हैं। आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी के जिलाध्यक्ष बदले जाने हैं। करीब 30 फीसदी से अधिक बदलने पर सैद्धांतिक सहमति बनी है। जिलाध्यक्षों को बदलने का आधार विधानसभा चुनाव में जिले में भाजपा का प्रदर्शन, संगठनात्मक गतिविधियों का सफलतापूर्वक आयोजन, कार्यकर्ताओं और जनप्रतिनिधियों से समन्वय है। पार्टी के प्रदेश स्तरीय शीर्ष नेता जल्द ही जिलाध्यक्ष बदले जाने पर विचार कर रहे थे। लेकिन निकाय चुनाव संभवतः अप्रैल मई में होने की स्थिति में अब चुनाव के बाद ही जिलाध्यक्ष बदलने पर सैद्धांतिक सहमति बनी है।

अग्रिम मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष बदले जाएंगे

भाजपा के अग्रिम मोर्चों में युवा मोर्चा, महिला मोर्चा, ओबीसी मोर्चा, एससी मोर्चा, एसटी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष भी बदले जाएंगे। वहीं किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर सिंह और अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कुंवर बासिल अली को फिर से प्रदेश अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

कुछ जिलाध्यक्ष होंगे पदोन्नत

भाजपा के कुछ जिलाध्यक्षों को पदोन्नत कर क्षेत्रीय टीम में महामंत्री, उपाध्यक्ष या मंत्री पद पर नियुक्त किया जाएगा। कुछ जिलाध्यक्ष पार्टी के अग्रिम मोर्चों, निगम, आयोग, बोर्ड में भी समायोजित किए जाएंगे।

Next Story
Share it