Top
Janta Ki Awaz

आज दोपहर तक लखनऊ में होगी अवैध निर्माण की पहचान, फिर चलेगा बुलडोजर

आज दोपहर तक लखनऊ में होगी अवैध निर्माण की पहचान, फिर चलेगा बुलडोजर
X

लखनऊ के वजीर हसनगंज रोड पर इमारत गिरने के बाद हुए हादसे में अब तक 14 लोगों का रेस्क्यू हो चुका है. दूसरी ओर लखनऊ आयुक्त और एलडीए की उपाध्यक्ष रोशन जैकब ने इस हादसे के बाद कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. यजदान बिल्डर्स के साथ ही लखनऊ की अवैध इमारतों की पहचान की जाएगी. सपा सरकार में कद्दावर मंत्री रहे शाहिद मंजूर के बेटे नवाजिश और तारिक पर एफआईआर के निर्देश दे दिए गए हैं.

लखनऊ आयुक्त ने अधिकारियों से यजदान बिल्डर्स और उनके मालिकों के ऊपर एफआईआर के निर्देश दिए हैं. इसके अलावा यजदान बिल्डर्स की लखनऊ में बनी हुई बिल्डिंगों की पहचान की जाएगी. पहचान के बाद अवैध निर्माणों पर तत्काल एक्शन होगा और उन्हें ध्वस्त किया जाएगा. इस कार्रवाई के लिए कोई लंबी प्रक्रिया नहीं होगी. बल्कि तुरंत फैसला किया जाएगा. इन निर्देशों के मिलने के बाद एलडीए के वीसी ने अधिकारियों को निर्देश दे दिया है.

निर्देशों के बाद एक्शन शुरू

निर्देशों के बाद एलडीए की पूरी टीम कार्रवाई में जुट गई है. शहर में दोपहर तक यजदान बिल्डर्स की बनी हुई अवैध निर्माण वाली इमारतों की पहचान करने का लक्ष्य रखा गया है. सूत्रों के अनुसार गोमती नगर के तरफ भी यजदान बिल्डर्स के भवनों के निर्माण की सूचना मिल रही है. दूसरी ओर एफआईआर की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है. बताया जाता है कि अलाया अपार्टमेंट की कंपाउंडिंग के लिए आवेदन हुआ था, जिसे एलडीए ने निरस्त किया था.

एलडीए के अधिकारियों की मानें तो हादसे के पीछे दो संभावनाएं हैं. उनका कहना है कि यह बिल्डिंग बिना नक्शे के बनी होगी या फिर नक्शे के हिसाब से नहीं होगी. दोनों ही पहलुओं पर जांच कराई जा रही है. इस हादसे के बाद शहर की बाकी अवैध निर्माण से बनी बिल्डिंग को तलाशने का काम शुरू कर दिया गया है. इसके लिए अलग से टीम को लगाया गया है. संभावना जताई जा रही है कि दोपहर तक उनकी पहचान करके कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी.

Next Story
Share it