You Searched For "election"

  • जनमंच : विरोध के स्वर तेज,'राज' के कान बजने लगे!!

    अजमेर। अगस्त का क्रांति माह अपने उफान पर है। महात्मा गाँधी के इसी आजाद भारत ने न जाने कितने संघर्ष देखे और झेले हैं। बावजूद, राजनीति की कुत्सित आत्माओं के, देश को लूटने खसोटने और आपस में किसी भी आधार को लेकर जनता को बाँट देने के बावजूद यहां 'लोकतन्त्र' टस से मस नहीं हो पाया है। नेता जनता की...

Share it
Share it
Share it
Top