Top
Janta Ki Awaz

निर्माणाधीन परियोजनाओं को हर हाल में समय सीमा के अंदर पूर्ण किया जाए : डीएम

निर्माणाधीन परियोजनाओं को हर हाल में समय सीमा के अंदर पूर्ण किया जाए : डीएम
X


चंदौली : जनपद में शासन द्वारा संचालित कल्याणकारी एवं विकासपरक योजनाओं में अपेक्षित प्रगति निरंतर बनी रहे, निर्माणाधीन परियोजनाओं को समय सीमा के अंतर्गत हरहाल में पूर्ण किया जाए, विकास कार्यों में किसी भी स्तर पर लापरवाही या हीला हवाली न बरती जाय, उक्त निर्देश

जिलाधिकारी संजीव सिंह ने विकास का कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक के दौरान उपस्थित अधिकारियों को दिये।

जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री आवास एवं मुख्यमंत्री आवास योजना के अंतर्गत निर्माणाधीन लक्ष्य के सापेक्ष अवशेष आवासों को समयसीमा के अंतर्गत निर्मित कराये जाने के निर्देश पी डी डी आर डी ए को दिया। कहा कि पात्र व्यक्तियों के आवास समयसे हरहाल में पूर्ण कराया जाना सुनिश्चित हो। नहरों की सिल्ट सफ़ाई के साथ ही टेल तक पानी पहुंचाने के निर्देश सिचाई विभाग के अभियंता को दिए। कहा कि किसानों के खेतों तक पानी अवश्य पहुँचना चाहिये। लघु सिंचाई विभाग के अभियंता को लक्ष्य के सापेक्ष शतप्रतिशत निःशुल्क बोरिंग कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने गर्मी के मौसम को देखते हुए पशु आश्रय स्थलों में सभी आवश्यक प्रबंध तत्काल सुनिश्चित कराये जाने हेतु मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया। कहा कि सभी पशु आश्रय स्थलों में गर्मी के दृष्टिगत पर्याप्त मात्रा में चारा पानी एवं छाया आदि की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित हो। सहभगिता योजनान्तर्गत पशुपालकों को समय से भुगतान सुनिश्चित हो। सामुदायिक शौचालयों के निर्माण की प्रगति धीमी होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए अपेक्षित प्रगति लाने के कड़े निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिए। साथ ही ऑपरेशन कायाकल्प के अंतर्गत पंचायत भवनों एवं परिषदीय विद्यालयों के कार्यों को प्राथमिकता के साथ पूर्ण कराने के निर्देश दिए। नई सड़कों के निर्माण, पुरानी सड़कों की मरम्मत व नवीनीकरण के कार्यों को तय समय में गुणवत्तापूर्ण ढंग से करा जाने के निर्देश अधिशाषी अभियंता पी डब्ल्यू डी को दिए। किसान सम्मान निधि के अंतर्गत लंबित मामलों का शीघ्र निस्तारण कराये जाने हेतु उप निदेशक कृषि को निर्देशित किया।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत प्राप्त सभी दावों का अविलंब निस्तारण कराकर कृषकों को लाभान्वित कराया जाय।

जिलाधिकारी ने जिलापंचायत राज अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि गर्मी को देखते हुए पेयजल की कहीं कोई दिक्कत न हो इसके दृतिगत आवश्यकतानुसार हड़पम्पों का रिबोर अविलंब करा लिया जाय। जनपद में हैंडपंप से पानी निरंतर मिलती रहे, यदि किसी हैण्ड पम्प में कोई समस्या उत्पन्न हो रही है तो निदान के लिए कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है जिसका नोडल अधिकारी जिला विकास अधिकारी नामित है। जिला विकास अधिकारी कार्यालय टोल फ्री नंबर 05412-260248, पुरषोत्तम राम जल निगम 05412-253941, अपर जिला पंचायत राज अधिकारी राम उदय यादव- 7007528842 की स्थापना की गयी है। गर्मी के मौसम के दृष्टिगत रिबोर सहित अन्य समस्या का शिकायत दर्ज किया जा सकता है। साथ ही आवश्यकतानुसार टैंकर के माध्यम से साफ पेयजल उपलब्ध कराया जाय। पार्कों के सौंदर्यीकरण के अंतर्गत कराये गए कार्यों का डिटेल उपलब्ध कराने हेतु अधिशाषी अधिकारी पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि वार्डों में नियमित साफ सफाई एवं कूड़ा उठान का बंदोबस्त सुनिश्चित रहे। आई जी आर एस की लंबित एवं डिफाल्टर श्रेणी की शिकायतों के तत्काल निस्तारण के कड़े निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। कहा कि जिन अधिकारियों द्वारा समय सीमा के अंतर्गत निस्तारण नही किया जाएगा उनकी जवाबदेही तय की जाएगी। कन्या सुमंगला योजनान्तर्गत आवेदनपत्रों का सत्यापन समय से करा लिए जाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। इसमें अनावश्यक विलम्ब न किया जाय। अवशेष आंगनबाड़ी केंद्रों का निर्माण तेज गति से पूर्ण कराने हेतु संबंधित को निर्देशित किया।

जिलाधिकारी ने उपस्थित समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि कोरोना के दृष्टिगत सभी कार्यालयों में हैंडवाश की समुचित व्यवस्था साबुन पानी आदि सुनिश्चित हो। सभी अधिकारी कर्मचारी मास्क का प्रयोग अवश्य करें। सभी कार्यालयों में कोविड प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित हो। बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण, पी डी डी आर डी ए, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी, अधिषाषी अभियंता पी डब्ल्यू डी सहित सम्बंधित विभागो के अधिकारी गण उपस्थित रहे।

रिपोर्ट : ओ पी श्रीवास्तव

Next Story