श्रीलंका में सीरियल बम धमाकों में 215 की मौत, 3 भारतीय भी शामिल

श्रीलंका में सीरियल बम धमाकों में 215 की मौत, 3 भारतीय भी शामिल

कोलंबो: श्रीलंका के कोलंबो में ईस्टर संडे के मौके पर हुए 8 धमाके हुए। ये धमाके तीन चर्चों और लग्जरी होटलों में हुए। ये विस्फोट ईस्टर प्रार्थना सभा के दौरान कोलंबो के सेंट एंथनी चर्च, पश्चिमी तटीय शहर नेगोम्बो के सेंट सेबेस्टियन चर्च और बट्टिकलोवा के एक चर्च में हुए। वहीं अन्य तीन विस्फोट पांच सितारा होटलों- शंगरीला, द सिनामोन ग्रांड और द किंग्सबरी में हुए। अधिकारियों के मुताबिक सिनामोन ग्रांड होटल के रेस्तरां में एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोट कर खुद को उड़ा दिया।

अभी तक 215 लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि लगभग 500 लोग घायल बताए जा रहे हैं। धमाकों के बाद श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने आपात बैठक बुलाई है। फिलहाल पुलिस ने अपनी जांच शुरू कर दी है।

Live Updates

एक वैन जो कथित तौर पर बम और संदिग्धों को ले जाने के लिए इस्तेमाल की गई थी, उसे पुलिस हिरासत में लिया गया।

सुषमा स्वराज ने कहा, 'मैंने श्रीलंका के विदेश मंत्री को अवगत कराया कि भारत सभी मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए तैयार है। यदि आवश्यक हो, तो हम अपनी मेडिकल टीमों को भी तैयार करने के लिए तैयार हैं।'

सुषमा स्वराज ने जानकारी दी, 'आठ बम विस्फोट हुए हैं। कोलंबो में भारतीय उच्चायोग ने अवगत कराया है कि राष्ट्रीय अस्पताल ने उन्हें तीन भारतीय नागरिकों की मृत्यु के बारे में सूचित किया है। इनके नाम हैं लक्ष्मी, नारायण चंद्रशेखर और रमेश। हम आगे के विवरणों का पता लगा रहे हैं।'

एएफपी ने पुलिस प्रवक्ता रुवान गुनसेकेरा के हवाले से बताया कि अब मरने वालों की संख्या बढ़कर 207 हो गई है। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि तीन लोगों को सीरियल बम धमाकों के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है।

श्रीलंका के रक्षा मंत्री ने कहा कि इन धमाकों के मामले में सात संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है। सरकार ने पुष्टि की है कि अधिकर बम ब्लास्ट आत्मघाती हमलावरों ने किया है। संभवत: एक ग्रुप ने सीरियल हमले को अंजाम दिया है।

श्रीलंका पुलिस ने कहा कि आठवां धमाका आत्मघाती विस्फोट था जिसमें तीन पुलिसकर्मी मारे गए।



Share it
Top