शनिवार शाम तक सब साफ हो जाएगा कौन लड़ेगा कानपुर सीट पर ...

शनिवार शाम तक सब साफ हो जाएगा कौन लड़ेगा कानपुर सीट पर ...

समाजवादी पार्टी 17 मार्च को अपने पत्ते खोल देगी। प्रत्याशी चयन के मामले में किसी तरह की मात न खानी पड़े, इसलिए अगले दो दिन गहन मंथन के लिए रखे गए हैं। पार्टी के सूत्र बताते हैं कि रविवार को कानपुर नगर लोकसभा सीट का प्रत्याशी फाइनल हो जाएगा।

बुधवार को दो घटनाक्रम के बाद कानपुर सीट के लिए गठबंधन पार्टियों की रणनीति में थोड़ा बदलाव संभव है। पहला घटनाक्रम सपा मुखिया अखिलेश यादव की बसपा सुप्रीमो मायावती से मुलाकात। दूसरा देर शाम कांग्रेस नेता श्रीप्रकाश जायसवाल का कानपुर से टिकट फाइनल होना। गठबंधन पार्टियों के सूत्र बताते हैं कि बसपा सुप्रीमो ने कानपुर सीट पर किसी ब्राह्मण प्रत्याशी को उतारने का सुझाव दिया है।

इस पर अंतिम सहमति बनने से पहले श्रीप्रकाश जायसवाल की टिकट पक्की होने की सूचना आ गई। अब सपा की चिंता ये है कि श्रीप्रकाश उनके परम्परागत मुस्लिम वोटों को काटने की क्षमता रखते हैं। इसके अलावा श्री प्रकाश को वैश्य बिरादरी का भी भरपूर वोट मिलता है।

विधानसभा चुनाव की तुलना में लोकसभा चुनाव में वोटों का ध्रुवीकरण भाजपा और कांग्रेस के बीच ही होता है। यही वजह है कि सपा लोकसभा चुनाव में अब तक शहर सीट पर एक बार भी जीत का स्वाद नहीं चख सकी। इस वजह से सपा इस बार प्रत्याशी चयन के मामले में किसी तरह की चूक नहीं चाहती। पार्टी ऐसे चेहरे पर विचार कर रही है जो श्री प्रकाश के खड़े होने के बावजूद मुस्लिम और वैश्य वोटों को कांग्रेस में जाने से रोक सके।

एक और चर्चा जोरों पर है कि कांग्रेस नेता अजय कपूर सपा में शामिल हो सकते हैं। अजय कपूर और अखिलेश यादव की मुलाकात के बाद इस चर्चा को और बल मिला है। हालांकि अजय कपूर ने इस मुलाकात को दोस्ताना बताया है। विश्वस्त सूत्र बताते हैं कि शनिवार शाम तक सब साफ हो जाएगा। इसके बाद ही रविवार को कानपुर सीट पर प्रत्याशी का नाम फाइनल होगा।

Share it
Share it
Share it
Top