Breaking News

सरेआम गुडंईः छात्र को पीटा, चप्पल चटवाई, क्राइम कंट्रोल में नाकाम लखनऊ पुलिस

सरेआम गुडंईः छात्र को पीटा, चप्पल चटवाई,  क्राइम कंट्रोल में नाकाम लखनऊ पुलिस

लखनऊ : जानकीपुरम विस्तार में सरेआम गुंडई का है। बेखौफ बदमाशों ने 11वीं के छात्र का अपहरण कर लिया। सुनसान इलाके में कार रोकी, मोेबाइल व 5000 रुपये लूट लिए। पिटाई की और चप्पल चटवाकर माफी मंगवाई।

इतना ही नहीं उसका वीडियो बनाया और मां से दुष्कर्म की धमकी देते हुए शहर छोड़ने की धमकी दी। इतना सबकुछ हो गया और पुलिस को तब पता चला जब वीडियो वायरल हुआ। छात्र की मां की तहरीर पर पांच के खिलाफ बृहस्पतिवार को मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एक आरोपी को हिरासत में लेकर अन्य की तलाश की जा रही है।

छात्र की मां के मुताबिक, वह मूलरूप से बस्ती की रहने वाली हैं और उनके पति रोडवेज में संविदा कर्मी थे। दस साल पहले उनकी मौत हो गई। वे एक निजी कंपनी में काम करती हैं। बेटा जानकीपुरम विस्तार में एक नामी स्कूल में 11वीं का छात्र है।

महिला के मुताबिक, तीन नवंबर को उनका बेटा भवानी बाजार स्थित एटीएम बूथ पर रकम निकालने गया था। रास्ते में कार सवार युवकों ने उसे रोक लिया। उसकी पिटाई की। इसके बाद कार में जबरदस्ती बैठा लिया। सुनसान इलाके में ले जाकर उसकी पिटाई की और चप्पल चटवाई। काफी मिन्नतों के बाद धमकी देते हुए वहां छोड़कर चले गए।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी रसूखदारों के बेटे हैं और उन्होंनेे शाह खर्ची केलिए वसूली को धंधा बना लिया था। 11वीं के छात्र से अक्तूबर में पांच सौ रुपये मांगे। टालमटोल किया तो धमकाने लगे। इस पर छात्र ने रुपये देकर अपनी जान बचाई। इसके बाद वे फिर रुपये मांगने लगे। मना करने पर वे छात्र को अगवा कर ले गए।

प्रभारी निरीक्षक राजकुमार सिंह के मुताबिक, पीड़ित छात्र से बयान लिया जाना है। उसमें अगर रुपये मांगने की बात सामने आई तो रंगदारी मांगने की धारा भी बढ़ाई जाएगी। फिलहाल बंधक बनाने, मारने पीटने, लूट और अपमान करने की धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

पीड़िता के मुताबिक, बृहस्पतिवार शाम को पुलिस ने केस दर्ज किया। इस मामले में एक आरोपी को पकड़ा है। इसके बाद से आरोपियों के रिश्तेदार लगातार फोन पर धमका रहे हैं। एक आरोपी के माता-पिता व अन्य रिश्तेदार घर पर आ धमके। देर रात तक केस वापस लेने केलिए दबाव बना रहे थे। वह लगातार धमकी दे रहे थे कि अगर केस वापस नहीं लिया तो अंजाम काफी बुरा होगा।

छात्र का कहना है कि उसकी और परिवार की छवि धूमिल करने के लिए रसूखदारों ने एक दिसंबर को घटना का वीडियो वायरल कर दिया। इसका विरोध करने पर उसके घर आ धमके। मां के साथ बदसुलूकी की। मां को घटना का पता चला तो उसने बेटे से घटना के बारे में जानकारी की। इसके बाद बेटे के साथ मां ने जानकीपुरम थाने में तहरीर दी। पीड़ित छात्र की मां का कहना है कि आरोपियों में एक एलडीए कर्मी का बेटा है।

Share it
Share it
Share it
Top