Breaking News

राहुल जी के सोना सत्याग्रह के बाद भारत के हर घर मे सोना बनने लगा

राहुल जी के सोना सत्याग्रह के बाद भारत के हर घर मे सोना बनने लगा

2020...

राहुल जी को भारत का प्रधानमंत्री बने वर्ष भर हो गए हैं। इस एक वर्ष में राहुल जी ने जो ऐतिहासिक लोकप्रियता प्राप्त की है, वैसी लोकप्रियता महात्मा गाँधी के अतिरिक्त और किसी को नहीं मिली थी। महात्मा गाँधी के नमक सत्याग्रह के बाद जिस तरह देश के घर-घर मे लोग नमक बनाने लगे थे, उसी तरह राहुल जी के सोना सत्याग्रह के बाद भारत के हर घर मे सोना बनने लगा है। राहुल जी ने प्रधानमंत्री बनने के महीने भर बाद ही हर परिवार को आलू से सोना बनाने वाली मशीन उपलब्ध करा दी है, अब हर व्यक्ति सोना बनाता है। मसीन में इधर से आलू डाला जाता है और उधर से भुदुर-भुदुर सोना गिरता है। एकदम चटक पीले रंग का सोना... भुदुर-भुदुर... जैसे किसी छोटे बच्चे का पेट खराब हो गया हो...

राहुल जी अब खूब बिकास कर रहे हैं। देश नई उचाइयां छू रहा है। बिकास करते करते राहुल जी जब थक जाते हैं तो एक बार मुस्कुरा कर सिंधिया जी को आँख मार लेते हैं, फिर दनादन बिकास करने लगते हैं। आँख मारने से उन्हें असीमित ऊर्जा प्राप्त होती है, जिसे वे देश के विकास के लिए खर्च करते हैं। सिंधिया जी को सरकार में कोई मंत्रिपद नहीं मिला है, वे सदैव राहुल जी से आँख मरवाने के लिए उनके पास खड़े रहते हैं। फिर भी सरकार में राहुल जी के बाद सबसे अधिक उन्हीं की चलती है। जाने क्यों...

बिहार विभूति श्री तेजप्रताप जी को सरकार में शिक्षा-मंत्री का पद मिला है, वे मनोयोग से देश की शिक्षा व्यवस्था का कल्याण करने में जुटे हैं। वे प्रतिदिन एक हजार विद्यालयों का कल्याण करते हैं या करने की चेष्टा करते हैं। यदि कोई विद्यालय अपना कल्याण करवाना नहीं चाहता, तो वे उसके प्रधानाध्यापक को जबरदस्ती पकड़वा कर उसका कल्याण करते हैं। मुरली और शंख बजाने की शिक्षा अनिवार्य कर दी गयी है, और देश भर के स्कूलों में पीले रंग का स्कूल ड्रेस लागू कर दिया गया है।

रक्षा मंत्री के रूप में ममता बनर्जी ने इतिहास रच दिया है। जबसे वे देश की रक्षा मंत्री बनी हैं तबसे पाकिस्तान की ओर से एक गोली तो क्या एक ढेला तक नहीं चला है। पाकिस्तान भीगी बिल्ली बना दुम हिला रहा है। हाफिज सईद की बीबी ममता जी के घर चूल्हा-बरतन करती है कि किसी तरह उसका सुहाग बच जाय। असल मे मोमता जी हर महीने एक बार सीमा पर जा कर पाकिस्तान को इतनी गालियां देती हैं कि पाकिस्तानी सेना के कान के पर्दे फट जाते हैं। आईएसआई अब उनके नाम से ही थर-थर काँपने लगती है। पाकिस्तान के बजीरे-आजम और सिद्धू जी के दिलबर इमरान खान कई बार संयुक्त राष्ट्र में गुहार लगा चुके कि मोमता जी को चुप कराया जाय। इमरान कहते हैं कि "गाली ही देना है तो बहन या बीबी की दे लो, माँ की गाली क्यों देती है?" पर मोमता जी को रोक सके इतनी सामर्थ्य किसके पास... वे तो कभी कभी राहुल जी को भी...

कांग्रेस जीजा मिस्टर वाड्रा देश के कृषि मंत्री हैं। उन्होंने राहुल जी से यह पद दहेज में लिया है। असल मे मिस्टर वाड्रा को किसानों और उनकी जमीनों से बड़ा प्रेम है। जब मनमोहन सिंह जी प्रधानमंत्री थे तब मिस्टर वाड्रा अपना किसान प्रेम दिखा देते थे, पर बाद में जब मोदी हुए तो उन्होंने वाड्रा के प्रेम को अवैध घोषित कर दिया। अब सार की सरकार में जीजाजी को अपना प्रेम दिखाने का भरपूर मौका मिला है। वे किसानों को पकड़-पकड़ कर उनसे लभ करते हैं। किसान उनके लभ से हरक कर भागते हैं तब भी मिस्टर वाड्रा उन्हें नहीं छोड़ते। एक वर्ष में ही उन्होंने लाखों किसानों से प्रेम किया है, और अब उनके पास देश में चर्च के बाद सबसे अधिक जमीन है।

मिस्टर वाड्रा राहुल जी के सपने को साकार करने के लिए भी बहुत परिश्रम कर रहे हैं। वे हर गाँव मे बड़ी बड़ी मशीने लगवा रहे हैं जिससे किसान अपने गन्ने की लकड़ी को चीर कर फर्नीचर बना कर बेंच सकें। वे पर्यावरण की सुरक्षा के लिए लाखों की संख्या में धान और गेहूं के पेंड़ भी लगवा रहे हैं।

अभिषेक मनु सिंघवी देश के कानून मंत्री हैं, और इन्होंने साइड विजनेश के रूप में जज बनाने वाला इंस्टीच्यूट भी खोला है। आजकल उनका पूरा खानदान जज बनाने का काम कर रहा है। छोटे-मोटे जज तो उनके नौकर-चाकर भी बना लेते हैं। उनके बनाये जज बड़े सस्ते और टिकाऊ होते हैं, और दनादन न्याय करते हैं।

देश के साथ विदेशों में भी राहुल सरकार की वाहवाही हो रही है। राहुल जी जिस अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में चले जाते हैं वहाँ आनंद बरसने लगता है। कभी कभी तो वे और अमेरिकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक दूसरे को घण्टों आँख मारते रहते हैं।

कुल मिला कर देश मे राम राज्य है।

उधर पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुबारा चाय की दुकान खोल लिए हैं। वे तो झोला उठा कर हिमालय की ओर जाने वाले थे पर केजरीवाल जी उनका झोला ही उड़ा ले गए।

भारत अब विश्वशक्ति बनने की ओर दौड़ रहा है।

सर्वेश तिवारी श्रीमुख

गोपालगंज, बिहार।

Share it
Top