Read latest updates about "भोजपुरी कहानिया"

  • राजपूत...

    राजपूत...

    पिछले कुछ दिनों से देख रहा हूँ, पद्मावती फ़िल्म की आड़ में राजपूत राजाओं पर प्रश्न खड़ा करने और उन्हें कायर कहने वाले बुद्धिजीवी कुकुरमुत्ते की तरह उग आए हैं। अद्भुत अद्भुत प्रश्न गढ़े जा रहे हैं। राजपूत वीर थे तो हार क्यों जाते थे? राणा रतन सिंह योद्धा ...

    2017-11-16 13:32:32.0
  • यह चुनाव है डार्लिंग...

    यह चुनाव है डार्लिंग...

    गुजरात चुनाव अपने आनंददायक मोड़ पर है, चहुँओर आनंद चू रहा है। स्थापित शब्दों के अर्थ ब्यापक हो रहे हैं। धर्मनिरपेक्षता के नए अर्थ ने फिलहाल राजनीतिक गलियारों में धमाकेदार दस्तक दी है। अब यह सिद्ध हो चुका कि आप जातिवाद का जहर बोने के बाद भी धर्मनिरपेक्...

    2017-11-14 14:20:28.0
  • हम ओके 5 तारीख के मुआ देब!

    "हम ओके 5 तारीख के मुआ देब!"

    स्टेशन पर भीड़ ज्यादा रहे। पैसेंजर ट्रैन के आवे के घोषणा हो गईल रहे अउरी यात्री लोग ट्रैन पकडे खातिर प्लेटफार्म नंबर तीन पर लटकल रहे। ट्रैन बबलू के भी पकडे के रहे पर उनका कवनो अकुताई ना रहे। इ उनकर आदत रहे। उ ट्रैन में सबसे आखरी में चढ़स अउरी अगर लटके ...

    2017-11-13 04:28:20.0
  • रेलवे वाले के यहाँ रिश्तेदारी किस्मत वाले की होती है।

    "रेलवे वाले के यहाँ रिश्तेदारी किस्मत वाले की होती है।"

    आज गोधन बाबा की कुटाई के साथ ही शादी तय करने की प्रक्रिया चालू हो जायेगी। पहले के ज़माने में लड़के की तलाश से लेके रिश्ता और दिन बार तय करने की प्रक्रिया गोधन के बाद ही शुरू होती थी हालांकि अब ऐसा नहीं है। योग्य लड़के की तलाश साल भर चलती है और अगर सब ब...

    2017-11-13 04:27:36.0
  • रेल यात्रा .....

    रेल यात्रा .....

    लगभग दस वर्ष पहले की बात है... एक रेल यात्रा के दौरान मैंने रेल की पटरी के समानांतर दीवार पर, एक इश्तेहार पढ़ा कि "जोश अब हर रविवार " दरअसल उस वक्त दैनिक जागरण अखबार प्रत्येक सप्ताह बुद्धवार को अपना एक विशेषांक निकालता था "जोश"। "जोश" नाम से बुद्धवार...

    2017-11-08 07:05:23.0
  • दादा

    "दादा"

    शीर्षक पढते ही आपके जेहन में दो तरह के दादा लोगो का नाम आएगा- एक तो वो दादा जो घर में सबसे बुजुर्ग, सबके पूजनीय, आदरणीय और बच्चो के अतिप्रिय होते है और उनका नाम लेते वक्त स्वतः ही आप नाम के साथ जी लगा देते है. दुसरे दादा वो होते है जिनका पहला नाम दमद...

    2017-11-08 06:39:15.0
  • ए डार्लिंग, हेने ताको

    "ए डार्लिंग, हेने ताको"

    मैट्रिक में 98% नम्बर ला कर पुरे जिले में टॉप करने वाले आलोक पांडेय बी ए में आते आते थर्ड डिवीजनल स्टूडेंट कैसे हो गए इस पर आज भी पुरे रतसड़ गांव को आश्चर्य है,पर आलोक पांडेय को कोई आश्चर्य नही।साढ़े चार साल तक एक ही ताव में जलने वाले व्यक्ति की हालत थ...

    2017-11-05 23:40:08.0
  • घोघा बापा का प्रेत (कहानी) -4

    घोघा बापा का प्रेत (कहानी) -4

    इधर सज्जन जी महमूद गजनी की एक तिहाई सेना को नितांत अकेले ही तहस नहस करके, वीरगति को प्राप्त हो गए रेगिस्तान में। और उधर उनके बीस वर्षीय लड़के और घोघाराणा के प्रपौत्र 'सामन्त' को कुछ ज्ञात ही नहीं था। वो अपनी ऊँटनी पर उड़ा जा रहा था कि बापू से पहले ही घ...

    2017-11-04 10:39:37.0
  • नईहर के रास्ता

    "नईहर के रास्ता"

    "अब हमसे तहरा माई के सेवा ना होई" बाल्टी पटकत चनर बो कहली " कह कि मथुरा काशी चल जास। इन कर भार उठावे के कर्जा हमही खईले बानी का। इनका साथ के सब बुढ त भगवान किहाँ चल गईल लोग। ना जाने कवन पाप कईले बाड़ी कि मउवत भी नईखे आवत" चनर कुछु ना बोलले। मन...

    2017-11-04 01:27:45.0
  • नईहर के रास्ता

    "नईहर के रास्ता"

    "अब हमसे तहरा माई के सेवा ना होई" बाल्टी पटकत चनर बो कहली " कह कि मथुरा काशी चल जास। इन कर भार उठावे के कर्जा हमही खईले बानी का। इनका साथ के सब बुढ त भगवान किहाँ चल गईल लोग। ना जाने कवन पाप कईले बाड़ी कि मउवत भी नईखे आवत" चनर कुछु ना बोलले। मन...

    2017-11-04 01:27:45.0
  • सँदेसो देवकी सों कहियो...

    सँदेसो देवकी सों कहियो...

    नंद बाबा चुपचाप रथ पर कान्हा के वस्त्राभूषणों की गठरी रख रहे थे। दूर ओसारे में मूर्ति की तरह शीश झुका कर खड़ी यशोदा को देख कर कहा- दुखी क्यों हो यशोदा, दूसरे की बस्तु पर अपना क्या अधिकार? यशोदा ने शीश उठा कर देखा नंद बाबा की ओर, उनकी आंखों में...

    2017-11-04 01:25:37.0
  • उस्ताद................( कहानी )

    उस्ताद................( कहानी )

    खलील मियाँ पिछले तीस साल से सिलाई मशीन चला रहें हैं लेकिन जो नाम और पहचान उनको "उस्ताद" के वजह से मिली वह अपने सिलाई मशीन और हुनर से आज तक न मिल पायी। वैसे उनको भी जो भरोसा अपने चार साल के उस्ताद के हुनर पर है उतना उनको अपने खुद के हुनर पर नहीं। जा...

    2017-11-03 03:59:50.0
Share it
Share it
Share it
Top
To Top
Select Location