Read latest updates about "लेख" - Page 1

  • प्रेम में डूबी लड़की को सामने सिर्फ सपनों का रंगभरा आकाश दिखता है ....

    बात..बारह तेरह वर्ष पहले की है. मैं अपने एक रिश्तेदार के घर पर बैठा हुआ था. रिश्तेदार के घर के सदस्यों के बीच एक उनकी परिचित लड़की भी आयी थी. लड़की ग्यारहवीं में पढ़ने वाली, प्रखर एवं तेजतर्रार थी.उसी वक्त शाहिद कपूर की सुपरहिट फिल्म 'विवाह' थियेटरों में धूम मचाई थी.संयोग से एक दिन पहले वो बच्ची...

  • भागी हुई लड़कियों का बाप!

    वह इस दुनिया का सबसे अधिक टूटा हुआ व्यक्ति होता है। पहले तो वह महीनों तक घर से निकलता नहीं है, और फिर जब निकलता है तो हमेशा सर झुका कर चलता है। अपने आस-पास मुस्कुराते हर चेहरों को देख कर उसे लगता है जैसे लोग उसी को देख कर हँस रहे हैं। वह जीवन भर किसी से तेज स्वर में बात नहीं करता, वह डरता है कि...

  • भिखारी ठाकुर की पुण्यतिथि पर विशेष...भोजपुरी के शेक्सपीयर भिखारी ठाकुर

    महापंडित राहुल सांकृत्यान ने जिन्हें 'भोजपुरी का शेक्सपीयर' कहा....लोक कलावंत भिखारी ठाकुर की आज पुण्यतिथि है। वह भोजपुरी के समर्थ लोक कलाकार होने के साथ ही रंगकर्मी, लोक जागरण के सन्देश वाहक, नारी विमर्श एवं दलित विमर्श के उद्घोषक, लोक गीत तथा भजन कीर्तन के अनन्य साधक भी रहे हैं। वह बहुआयामी...

  • 17 जुलाई से शुरू हो रहे सावन माह में वक्री होंगे शनि और गुरु, इस तरह करें शिव को प्रसन्न

    भगवान शिव को अति प्रिय श्रावण मास 17 जुलाई से प्रारंभ हो रहा है। इससे एक दिन पहले पूर्णिमा के दिन चंद्र ग्रहण लगेगा। श्रावण मास में किया गया पूजन अर्चन और अभिषेक अनंत पुण्य देने वाला होगा। इस बार श्रावण मास में 22 व 29 जुलाई तथा चार और 11 अगस्त को मिलाकर चार सोमवार पड़ेंगे। रक्षाबंधन का पर्व 15...

  • वह फील्ड में केवल एक खिलाड़ी बन कर नहीं, भारतीय स्वाभिमान का ध्वज बन कर उतरता था

    बहुत पहले एक इंटरव्यू में वेस्टइंडीज के कथित महान बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स ने कहा था, ' हम भारत में क्रिकेट खेलने नहीं आते हैं। हम भारत मे इसलिए आते हैं क्योंकि यहाँ की लड़कियाँ सुन्दर होती हैं।' यह भारतीय क्रिकेट टीम का वैश्विक अपमान था, जो किसी जमाने में वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया जैसी टीमें हमेशा...

  • महाप्रभु का महा रहस्य, सोने की झाड़ू से होती है सफाई

    प्रेम शंकर मिश्र महाप्रभु जगन्नाथ(श्री कृष्ण) को कलियुग का भगवान भी कहते है.... पुरी(उड़ीसा) में जग्गनाथ स्वामी अपनी बहन सुभद्रा और भाई बलराम के साथ निवास करते है... मगर रहस्य ऐसे है कि आजतक कोई न जान पायाहर 12 साल में महाप्रभु की मूर्ती को बदला जाता है,उस समय पूरे पुरी शहर में ब्लैकआउट किया जाता है...

  • अदभुत विचारक,आध्यात्मिक गुरु स्वामी विवेकानंद जी की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि।

    अपनी तेजस्वी वाणी के जरिए पूरे विश्व में भारतीय संस्कृति और अध्यात्म का डंका बजाने वाले स्वामी विवेकानंद ने केवल वैज्ञानिक सोच तथा तर्क पर बल ही नहीं दिया, बल्कि धर्म को लोगों की सेवा और सामाजिक परिवर्तन से जोड़ दिया। स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ था। 1884 में उनके पिता...

  • शुक्रिया कैसे करू तुम्हारा....

    शुक्रिया कैसे करू तुम्हारा, पर चाहता बहुत हूँ,शाम थी पहलु में तुम्हारे कल, सच कहता हूँ। शुक्रिया कैसे करू तुम्हारा पर चाहता बहुत हूँधड़कने थमीं थी तुमको पाकर अपने पास ,हाथो में हाथ था तुम्हारे, और लब पर थी एक प्यास।देखती रही नज़र बस तुमको ही ए सनम ,जैसे रहा हो शबर इनको कई जन्मों जनम।शुक्रिया कैसे...

  • सारा दिन मोबाइल पर हो रहा खर्च, टेढ़ी हो रही रीढ़ की हड्डी

    नई दिल्ली । यदि आप लंबे समय तक स्मार्टफोन और टेबलेट्स पर काम कर रहे हैं या किसी वजह से इसके संपर्क में बने रहते हैं तो ये खबर आपके काम की है। इस खबर को ध्यान से पढ़े और इससे कुछ सीख लें अन्यथा आने वाले कुछ सालों में आपको मिलने वाली समस्याओं का अंत नहीं होगा। आपकी आंखों के साथ-साथ गर्दन पर पीछे की...

  • तेज धूप से लड़ने की ताकत देगा सत्तू, इसके 5 फायदे

    इन सब चीजों से आपको कुछ देर राहत तो मिलती है, लेकिन गर्मी में सुकून नहीं है. गर्मियों में सत्तू बहुत फायदेमंद होता है. सत्तू में फाइबर और कार्बोहाइड्रेट होता है. सत्तू की तासीर ठंडी होती है और इसके कई फायदे होते हैं. 1. गर्मी में तेज धूप के कारण पूरा बदन पसीने में तर रहता है जिससे शरीर में पानी...

  • उन्नीस बच्चों की मृत्यु पर विरोध जता के चुप हो चुके हम...

    सूरत में उन्नीस बच्चों की मृत्यु पर विरोध जता के चुप हो चुके हम। लोकतंत्र में जनता का कर्तव्य वोट दे लेने तक और अधिकार किसी दुर्घटना/अपराध का विरोध कर लेने तक ही सीमित होता है। पिछले सत्तर वर्षों से हम यही करते आये हैं और आगे भी यही करते रहेंगे। हममें कोई परिवर्तन नहीं होगा। बात तनिक कटु...

  • .....माँ.....

    तस्वीर देखिये। बच्चे को दूध पिलाती माँ! माँ का चेहरा देखिये, क्या आपको लगता है कि उसकी छाती में छटाक भर भी दूध होगा? चेहरा बता रहा है कि दुखों ने उसके शरीर से खून-पानी-दूध सब चूस लिया है। कितने दिनों से उसके पेट मे अन्न का एक दाना भी नहीं गया है, कहा नहीं जा सकता। फिर भी वह दूध पिला रही है।...

Share it
Top